बांग्लादेश के मदरसे का वीडियो उत्तरप्रदेश का बताकर वायरल

बूम ने पाया कि वीडियो बांग्लादेश के चिट्टागोंग में फ़िल्माया गया था.

बांग्लादेश के चिट्टागोंग में एक मदरसे में मौलवी द्वारा नाबालिग को पीटने का वीडियो फ़र्ज़ी दावों के साथ वायरल है. दावा है कि यह उत्तर प्रदेश में एक नाबालिग की पिटाई दिखाता है.

हाल में उत्तरप्रदेश के गाज़ियाबाद में एक 14 वर्षीय मुस्लिम लड़के को कथित तौर पर मंदिर में पानी पीने जाने पर पीटा गया. इस मामले को आरोपियों में से एक ने रिकॉर्ड कर सोशल मीडिया पर शेयर भी किया था. इस घटना के वीडियो के वायरल होने के बाद गाज़ियाबाद पुलिस ने अब तक दो मुख्य आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया है.

बांग्लादेशी क्रिकेटर शाकिब-अल-हसन और इस ईमारत की वायरल तस्वीर का सम्बन्ध क्या है?

बूम अब वायरल हो रहे वीडियो को रिपोर्ट में नहीं प्रकाशित कर रहा है. कई ट्विटर यूज़र्स ने वीडियो को गाज़ियाबाद में हुई घटना से जोड़ने की कोशिश की और लिखा: "आसिफ पानी पीने नही बल्कि मन्दिर में रेकी करने गया था। क्योंकि पानी ही पीना होता तो टंकी बाहर लगी है पी सकता था। आज तक रिंकू शर्मा की हत्या पर मुंह में फेविकोल जमाए बैठी जमात रेकी करने वाले को लेकर रो रही है। जबकि उससे ज्यादा ठुकाई तो (सभी प्रकार की) इनकी मदरसों में हो जाती है."


यही वीडियो क्रिएटली मीडिया ने भी ट्वीट किया है. इस संस्था को पहले भी कई दफ़ा फ़र्ज़ी खबर शेयर करने पर फ़ैक्ट चेक किया गया है.


फ़ैक्ट चेक: पुलिस ने बोर्ड न हटाने पर मंदिर को खंडहर करने की धमकी नहीं दी

फ़ैक्ट चेक

बूम ने पाया कि वीडियो भारत से नहीं है. वीडियो की शुरुआत में एक व्यक्ति चिट्टागोंग की स्थानीय बोली में कहता है: "এই ভিডিও গইরজুম, মারেদ্দে" जिसका अर्थ है, 'मैं पिटाई का वीडियो रिकॉर्ड करूँगा.'

हमनें बूम बांग्लादेश फ़ैक्ट चेक टीम से बात की. उन्होंने पुष्टि की कि यह वीडियो बांग्लादेश के चिट्टागोंग से ही है.

वीडियो चिट्टागोंग के हाथाज़ारी मदरसे में शिक्षक मुहम्मद याह्या को आठ वर्षीय बच्चे को पीटते दिखाता है. यह घटना 9 मार्च 2021 में हुई थी.

बांग्लादेश की एक न्यूज़ रिपोर्ट के मुताबिक़, "एक मदरसा शिक्षक पर आठ वर्षीय आवासीय छात्र को प्रताड़ित करने का आरोप है. इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ जिसके बाद चिट्टागोंग के हाथाज़ारी इलाके से उसे गिरफ़्तार किया गया है. मुहम्मद याह्या, अल मरकाज़ुल क़ुरान इस्लामिक अकादमी के एक शिक्षक, को बुधवार को गिरफ़्तार किया गया है.

रिपोर्ट में बताया गया है कि घटना मंगलवार शाम की है जब याह्या ने बच्चे को कोनक कम्युनिटी सेंटर हाथाज़ारी के करीब स्थित मदरसे में बेरहमी से पीटा था. सोशल मीडिया पर वीडियो के वायरल होने पर बच्चे को स्थानीय प्रबंधन ने बचाया. वीडियो एक राह चलते व्यक्ति ने बनाया है, रिपोर्ट के मुताबिक़.

बूम बांग्लादेश के इनपुट के साथ.

Claim Review :   उत्तर प्रदेश के मदरसे का वीडियो
Claimed By :  Kreately Media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story