क्या है हवाला धन पर हैदराबाद पुलिस के वायरल हुए मीडिया ब्रीफिंग का सच ?

मीडिया ब्रीफिंग इस दावे के साथ हुई वायरल: देख लो जनता से लूटा हुआ पैसा मोदी कहाँ पहुंचा रहे हैं |
सात नवंबर 2018 को अल-सुबह हैदराबाद पुलिस ने शहर के कई हिस्सों में छापे मार कर करीब 7.51 करोड़ रुपये गैर-हिसाबी धन बरामद किये | ये सारा पैसा हवाला के ज़रिये भेजा गया था और पुलिस महकमे की माने तो इसका इस्तेमाल आने वाली तेलांगाना विधानसभा चुनावों में वोट खरीदने के लिए होने वाला था | इस घटना के दो हफ़्तों के अंदर ही G.m. Khan Azmi Baba नाम के शख्स के फ़ेसबुक प्रोफाइल से एक वीडियो शेयर किया जाता है जिसमे हैदराबाद पुलिस कमिश्नर अंजनी कुमार उपर्युक्त घटना को लेकर मीडिया ब्रीफिंग देते नज़र आते हैं | यह वीडियो हालाँकि किसी और संदर्भ में शेयर किया गया है और इसके साथ ये संदेश पोस्ट किया गया है:
देख लो जनता से लूटा हुआ पैसा मोदी कहाँ पहुंचा रहे हैं 
| रिपोर्ट लिखे जाने तक वीडियो चौंतीस (34) हज़ार से ज़्यादा बार शेयर किया जा चूका है | क्या है इस वीडियो और नरेंद्र मोदी का ताल्लुक ? संछेप में बताया जाए तो इस वीडियो में कमिश्नर अंजनी कुमार यह कहते हैं की इस घटना के अभियुक्तों को सात नवंबर के सुबह लगभग साढ़े पांच बजे पकड़ा गया था | "उसके पास से साढ़े पांच करोड़ रुपये कैश, मैक बुक आई-पैड, लैपटॉप, नोट काउंटिंग मशीन्स, तीस चेकबुक और एक सेलफोन बरामद हुआ है | दूसरा अभियुक्त भभूत सिंह राजपुरोहित की गिरफ्तारी हुई साईनाथ गंज, जोशीवाड़ा से | इस पुरे रिकवरी से पता चलता है की ये पूरा कैश तेलांगाना में आने वाले इलेक्शन के लिए यूज़ की तैयारी थी और इसमें बहुत सारे शेल कम्पनीज और हवाला ऑपरेटर्स भी इन्वोल्वड हैं," अंजनी कुमार कहते हैं | इस घटना में चार हवाला ऑपरेटर्स की गिरफ्तारी भी हुई है | इस पुरे मीडिया ब्रीफिंग के दौरान ना तो पुलिस कमिश्नर ने किसी राजनेता का नाम लिया और ना ही किसी राजनैतिक पार्टी का | तेलांगाना से छपने वाले प्रमुख समाचारपत्रों में इस घटना का ज़िक्र तो है मगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी या किसी अन्य नेता का नाम कहीं भी नहीं है | आप ये रिपोर्ट्स
यहां
और यहां पढ़ सकते है | ज्ञात रहे की भारत के सबसे नवीनतम राज्य तेलांगाना में विधानसभा चुनाव सात दिसंबर को हैं और नॉमिनेशंस भरने की आखिरी तारीख़ भी अब निकल चुकी चुकी है | अब दौर है प्रचार-प्रसार का और सभी पार्टियाँ एड़ी-चोटी का ज़ोर लगा कर इसीमे जुटी हुई हैं | आपको बताते चलें की चुनावों के पहले पुलिस प्रशासन काफी सजग हो चूका है और अगर समाचारपत्रों की माने तो नवंबर 5 तक राज्य के अलग-अलग हिस्सों से पुलिस और आई.टी. डिपार्टमेंट्स ने कुल 56.48 करोड़ रुपये गैर-हिसाबी धन बरामद किये हैं | इस पोस्ट के कमैंट्स सेक्शन में एक नज़र डाले तो पता चलता है की फ़ेसबुक यूज़र्स इस पर काफ़ी भरोसा कर रहे हैं |
Show Full Article
Next Story