लड़ाकू जेट के स्टंट प्रदर्शन का वायरल वीडियो राफेल नहीं है

स्टंट प्रदर्शन करता लड़ाकू जेट दरअसल एक रिमोट नियंत्रित टर्बाइन जेट एफ -16 है।
कई पोस्ट के माध्यम से व्हाट्सएप और फेसबुक पर साझा किए गए एक विमान का एक वीडियो दावा करता है कि यह राफेल लड़ाकू विमान है, जो भारत और फ्रांस के बीच सौदा का हिस्सा है। 2 मिनट 50 सेकेंड का वीडियो विमान में हवा में सभी प्रकार के स्टंट कर रहा है, खासतौर पर अंत में जहां इसे ट्रैक पर सीधा खड़ा दिखाया गया है। बूम ने वीडियो को ऑनलाइन खोजा और पाया कि दावा गलत है। विमान वास्तव में रिमोट नियंत्रित टर्बाइन जेट एफ -16 क्यू क्यू है जिसे ऑनलाइन ऑर्डर किया जा सकता है। हमने झूठे दावे की का सच जानने के लिए सोशल मीडिया की जांच की और पाया कि इससे संबंधित फेसबुक पर कई पोस्ट किए गए हैं।
राफेल लड़ाकू जेट होने के दावे के साथ एक समान वीडियो यूट्यूब पर भी उपलब्ध था। बूम ने इनविड का उपयोग करके कीफ्रेम प्राप्त करने के लिए इसके यूआरएल इस्तेमाल किया। कीफ्रेम प्राप्त करने के बाद, हमने वीडियो टूल यांडेक्स के माध्यम से कुछ छवियों की खोज की और हमने यही वीडियो यूट्यूब पर पाया जिसे फ्लेक्स इनोवेशन द्वारा डाला गया था। बूम ने वीडियो की जांच की और पाया कि हालांकि यह एक विमान है, लेकिन यह सामान्य आकार का विमान नहीं है। गूगल पर एफ -16 क्यू क्यू के लिए खोज करते हुए, हम फ्लेक्स इनोवेशन की वेबसाइट पर पहुंचे। यह एक कंपनी है जो विमान नियंत्रण प्रणाली, खिलौने और इलेक्ट्रॉनिक्स बनाने पर काम करती है। इस वेबसाइट पर, विमान सभी विनिर्देश के साथ उपलब्ध है, जिसे ऑर्डर किया जा सकता है। पोस्ट के विवरण में यह भी उल्लेख किया गया है कि टर्बाइन जेट को संस्थापकों में से एक, क्विइक सोमेनज़िनी द्वारा इसे संशोधित किया गया है। यहां तक कि सोशल मीडिया पर शेयर की जाने वाली पोस्ट में विमान के पिछले भाग पर फ्लेक्स इनोवेशन का लोगो भी था।
Show Full Article
Next Story