वायरल होती "मोदी के लिए मतदान मत करो" संदेश के साथ पेट्रोल पंप की रसीद फ़ेक है

हैंडहेल्ड बिलिंग मशीनों के व्यापारियों द्वारा उपयोग किए जाने वाले सैंपल बिल को संपादित कर के बनाया गया है ये बिल
पेट्रोल पंप पर मिलने वाली रसीद की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। बताया जा रहा है कि यह रसीद मुंबई के पेट्रोल पंप से दी जा रही है जिस पर यह संदेश लिखा है: “अगर आप पेट्रोल की कीमत को कम करना चाहते हैं तो मोदी को दोबारा वोट न दें।” व्हाट्सएप और फेसबुक पर वायरल हो रहे रसीद में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 87.88 रुपये दिखाई गई है। रसीद के नीचे लिखा है कि अगर आप ईंधन के दाम कम करना चाहते हैं तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वोट न दें। SMHoaxslayer नामक वेबसाइट ने तस्वीर का विश्लेषण किया और पाया कि रसीद ना सिर्फ नकली है बल्कि इस हैंडहेल्ड बिलिंग मशीन के काम करने की प्रणाली दिखाने वाली सैंपल तस्वीर से लिया गया है। उन्हें फ़ॉन्ट शैली और बिल के आकार में कई विसंगतियां मिलीं जो यह दर्शाता हैं कि यह तस्वीर मॉर्फ़ की गई थी। बूम ने आगे जाँच में 'साईं बालाजी पेट्रोलियम' का पता लगाया और ये भी पाया की ठीक ऐसी ही तस्वीर हैंडहेल्ड बिलिंग मशीनों के निर्माता और विक्रेता,
गोल्डमैन इलेक्ट्रोसिस्टम प्राइवेट लिमिटेड
के वेबसाइट पर भी मौजूद थी | ये मशीनें अक्सर पेट्रोल पंप, टोल संग्रह केंद्र और पार्किंग स्थल पर इस्तेमाल की जाती हैं | बूम ने पाया कि 'पेट्रोल पंप बिलिंग सिस्टम' सेक्शन के अंदर वेबसाइट ने सैंपल बिल अपलोड किया है। इस बिल और फर्जी फोटो में विखरोली (पश्चिम), मुंबई में स्थित पेट्रोल पंप 'साईं बालाजी पेट्रोलियम' के नाम और स्थान सहित कई समानताएं हैं। यहां तक की फ़र्ज़ी बिल और नमूना बिल में वाहन संख्या (MH04BZ9680) और ग्राहक (वैभव) का नाम भी एक है। विक्रेता के पास सभी प्रतिष्ठानों के लिए उसी नाम 'साईं बालाजी' के साथ साइट पर अपलोड किए गए भुगतान और पार्क सेवा, केबल नेटवर्क प्रदाताओं के लिए अन्य नमूना बिल भी हैं। फ़र्ज़ी बिल में 20 अगस्त, 2012 को बदल कर 4 अक्टूबर, 2018 में बदल दिया गया । बिल में अंकित पेट्रोल की कीमत प्रति लीटर 74.50 रुपये से बदल कर 87.88 रुपये कर दिया गया है। फ़र्ज़ी बिल में ये बदले गए विवरण आकस्मिक रूप से वहीं हैं जहां फ़ॉन्ट आकार, और फ़ॉन्ट शैली में फर्क हैं। उदाहरण के लिए '04 / 10/2018 'दिनांक का उल्लेख करने वाले फ़ॉन्ट का आकार '10:17' समय से छोटा है और बिल संख्या '1345' के अंतिम अंक शुरुआती अंकों से बड़े हैं।
बूम ने सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा संचालित राष्ट्रीय ई-पंजीकरण सेवाओं का उपयोग करके बिल (MH04BZ9680 ) में उल्लेखित वाहन संख्या की जांच की लेकिन इससे कोई परिणाम नहीं मिला। ई-पंजीकरण सेवाओं का उपयोग करके किसी भी वाहन मालिक और वाहन का विवरण एसएमएस के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है इसके अलावा बिल बताता है कि पेट्रोल पंप एक 'एचपीएल' डीलर है लेकिन एचपीएल नाम से ऐसा कोई पेट्रोल सप्लायर मौजूद नहीं है।
Show Full Article
Next Story