पाकिस्तान में गनपॉइंट पर हुई एक डकैती को बताया जा रहा है मुंबई की घटना

बूम ने पाया कि वायरल वीडियो पाकिस्तान के कराची में हुई उस घटना का है जो इस साल अगस्त में हुई थी

पाकिस्तान के कराची में बंदूक की नोक पर एक ड्राइवर को लूटने वाले चार नौजवानों का एक नाटकीय वीडियो भारत में वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया गया है कि यह घटना मुंबई के घाटकोपर की है।

एक मिनट की लंबी क्लिप में दो मोटरबाइक पर चार आदमी दिखाई देते हैं जो ड्राइवर और उसकी महिला सह-यात्री पर घात लगा कर आक्रमण करते हैं।

अर्काइव के लिए यहां देखें

वीडियो को एक कैप्शन के साथ शेयर किया जा रहा है, जिसमें लिखा है “यह वीडियो मुंबई के घाटकोपर स्थित सर्वोदय मंदिर से लिया गया है । अगर आपको लगता है कि अभी भी बच्चों को कट्टरपंथी नहीं बनाया जा सकता है, तो देखें पूरा वीडियो! अगर हमारे जनसांख्यिकीय परिवर्तन 30% से ऊपर पहुंच जाते हैं तो यह हमारे देश का भाग्य हो सकता है। ”

हमने इसी कैप्शन के साथ एक खोज की और पाया कि वीडियो फ़ेसबुक पर वायरल है।

( फ़ेसबुक पर समान वीडियो वायरल है )

फ़ैक्ट चेक

हमने वीडियो सत्यापन उपकरण InVid का उपयोग करके वीडियो को की-फ्रेम में तोड़ा और एक रिवर्स इमेज सर्च चलाया, जिससे पता चला कि वीडियो पाकिस्तान के कराची का था।

हमें वायरल वीडियो पर जियो न्यूज़ की एक रिपोर्ट मिली, जिसे यूट्यूब पर 1 सितंबर, 2019 को अपलोड किया गया था ।



जियो न्यूज़ की वीडियो रिपोर्ट के अनुसार, यह घटना 25 अगस्त, 2019 को कराची के हिल पार्क में हुई थी, जहां एक परिवार को वीडियो में स्पॉट किए गए चार लड़कों द्वारा लूट लिया गया था।

रिपोर्ट के अनुसार आरोपियों में दो नाबालिग, 15 और 17 वर्ष की आयु के थे जिन्हें गिरफ़्तार कर लिया गया था । दोनो का पिछला आपराधिक रिकॉर्ड रहा है जबकि अन्य दो आरोपी अभी भी फ़रार थे।

डॉन न्यूज़ ने 27 अगस्त, 2019 की घटना के बारे में ट्वीट किया था।



बूम ने पहले भी भारत में वायरल अन्य देशों के वीडियो को खारिज किया है। ( यहां और यहां पढ़ें )

Show Full Article
Next Story