उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा जनता पर लाठी चार्ज का वीडियो हुआ गलत सन्दर्भ में वायरल

वायरल पोस्ट में दावा किया गया है की नौकरी की मांग कर रहे युवाओं पर पुलिस ने जम कर डंडे बरसाए
aligarh lathi charge incident

सोशल मीडिया पर एक पुराने वीडियो को गलत कैप्शन के साथ काफ़ी शेयर किया जा रहा है | वीडियो में आप पुलिस कर्मचारियों को विरोध प्रदर्शन कर रहे कुछ युवाओं पर लाठी चार्ज करते देख सकते हैं | कैप्शन कहता है: नौकरी चाहिए - नौकरी, #भाजपाकेराजमें, ले - लो - ले - लो, #सीधेजॉइनलेटरले_लो

aligarh-incident
वायरल पोस्ट

I support ravish kumar i support truth नामक पेज पर प्रमुखता से शेयर किये गए इस वीडियो को आप यहां देख सकते हैं और इसके आर्काइव्ड वर्शन को आप यहां देख सकते हैं |

वीडियो में पुलिस वाले विरोध प्रदर्शन कर रहे युवाओं को दौड़ा कर डंडो से मार रहे हैं |

यह पोस्ट फ़ेसबुक पर कई पेजेज़ से वायरल है |

viral on fb lathicharge
viral on facebook lathicharge

फैक्ट चेक

बूम ने जब इस वीडियो के स्क्रीनशॉट्स को रिवर्स इमेज सर्च के ज़रिये चेक किया तो हमें मालूम चला की यह वीडियो पिछले वर्ष के जून से सोशल मीडिया पर घूम रहा है |

हमें एक लोकल न्यूज़ चैनल पर यही वीडियो मिला | चैनल 9, जहां हमें ये वीडियो मिला, ने इस घटना को हिन्दू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं पर हुए लाठी चार्ज की घटना बताया |



यूट्यूब पर अपलोड किया गया वीडियो

न्यूज़ रिपोर्ट्स में भी जब हमने इस घटना के बारे में पता लगाया तो कुछ लिंक्स मिले जहां इसका ज़िक्र था |

report on lathi charge
टाइम्स ऑफ़ इंडिया में छपी रिपोर्ट

रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना अलीगढ़ की है जब पुलिस ने भीड़ पर लाठियां बरसाई थी | भीड़ ने कथित तौर पर सीनियर सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस कार्यालय का गेट बंद कर दिया था | हिन्दू जागरण मंच के कार्यकर्ता मर्डर केस में दोषी एक व्यक्ति की गिरफ़्तारी की मांग कर रहे थे | इस घटना से संबंद्धित पूरी जानकारी यहां पढ़ें |

Claim Review :  उत्तर प्रदेश पुलिस ने नौकरी की मांग कर रहे युवाओं पर लाठी चार्ज किया
Claimed By :  Facebook pages
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story