मलाला युसुफ़ज़ई की शिक्षक के नाम पर फ़र्ज़ी बयान वायरल

बूम ने पाया की हज़ारों बार शेयर की गयी इस तस्वीर और बयान को फ़र्ज़ी तौर पर बनाया गया है | तस्वीर मरियम ख़ालिक की है
Mariam-fake-quote

कई महीनों से एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है | मिशन मोदी 2024 नामक फ़ेसबुक पेज पर इस फ़ोटो एवं फ़ोटो पर लिखे बयान को कुछ ही दिनों पहले शेयर किया गया है | इस लेख के लिखने तक पोस्ट करीब 5,300 बार शेयर की जा चुकी है | कमेंट सेक्शन में लोग इस बयान की तारीफ़ करते हुए देखे जा सकते हैं |

बयान कुछ इस प्रकार है: "हमारे इस्लाम में औरतों को बच्चे पैदा करने वाला खेत समझा जाता है हम सब मुस्लिम औरतें मुस्लिम धर्म छोड़कर हिन्दू बन जाए गई और हिन्दू लड़को के साथ शादी करे गी | फिर न तलाक न हलाला का डर - जय श्री राम (फ़ातिमा कुरैशी, मुंबई)" (Sic)

बूम ने वाक्य एवं व्याकरण को पोस्ट के समान लिखा है |

इसके अलावा कई फ़ेसबुक पोस्ट्स में एक कैप्शन भी लिखा है जो इस प्रकार है: "मुंबई की फातिमा कुरेशी कहती है हलाला का शिकार होने से अच्छा हिंदू धर्म में शादी करना ! कम से कम वहां पति अपनी पत्नी को इज्जत तो करता है ! वहां कभी तलाक का डर तो नहीं सताता, वहां कभी हलाला का शिकार तो नहीं होना पड़ता ! अब सभी मुस्लीम महिलाओं को सोचना पडेगा ! समय बदल रहा है !" (Sic)

आपको बता दें की पोस्ट में लिखे गए फ़र्ज़ी बयान और तस्वीर में कोई सम्बन्ध नहीं है | तस्वीर में दिख रही महिला मरियम ख़ालिक़ हैं ना की फ़ातिमा कुरैशी | हमें खोज करने पर इस प्रकार का कोई बयान नहीं मिला |

नीचे आप इस तरह की कुछ पोस्ट्स देख सकते हैं |

आप इन पोस्ट्स के आर्काइव्ड वर्शन यहाँ एवं यहाँ देखें |

फ़ैक्ट चेक

बूम ने तस्वीर को सर्च इंजन यांडेक्स पर रिवर्स इमेज सर्च कर देखा तो हमें पांच साल पहले प्रकाशित एक ब्लॉग मिला | इस ब्लॉग में वायरल हो रही तस्वीर को मरियम ख़ालिक़ बताया गया है | ब्लॉग में उस फ़ोटोग्राफर का नाम भी है जिसने यह फ़ोटो ली है | फ़ोटोग्राफर का नाम रिक बजोर्नास है | इस ब्लॉग के अलावा एक लेख और मिला जो मरियम की पूरी स्पीच एवं उसके पीछे के मकसद का वर्णन करता है | यह ब्लॉग से पता चलता है की मरियम पाकिस्तान के ख़ैबर पख़्तूनख़्वा प्रान्त में स्वाट घाटी में एक शिक्षक हैं और उन्होंने पहले मलाला युसुफ़ज़ई को पढ़ाया है |

Youthskillwork blog screenshot for the story
युथ स्किल वर्क ब्लॉग का स्क्रीनशॉट
Screenshot of UN website
यूनाइटेड नेशंस की वेबसाइट पर यह लेख आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर वीडियो 2013 में प्रकाशित होने के एक साल बाद प्रकाशित हुआ था |

इसके बाद हमने यूनाइटेड नेशंस की आधिकारिक वेबसाइट पर मरियम नाम से खोज की और पाया की वायरल तस्वीर तब खींची गई थी जब मरियम ने यूनाइटेड नेशंस समिति के समक्ष न्यू यॉर्क में 2013 में महिला शशक्तिकरण और महिलाओं के लिए शिक्षा एवं जागरूकता के ऊपर भाषण दिया था | उन्होंने एक वीडियो में पाकिस्तानी महिलाओं की तक़लीफ़ और तालिबान की अपरिवर्तनवादी सोच के ऊपर बोला था | नीचे आप देख सकते हैं |



Claim Review :   मुंबई की फ़ातिमा कुरैशी ने कहा सभी मुस्लिम औरतों को हिन्दू लड़को से शादी कर हलाला और तीन तलाक से बचना है
Claimed By :  Facebook pages
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story