क्या राहुल गाँधी ने मंच पर पकड़ा महिला कार्यकर्ता का हाथ ?

वायरल किये गए फोटो के पीछे का सच ये है की एकता परिषद् की महिला कार्यकर्ता खुद मंच पर राहुल गाँधी से हाथ मिला रहीं थी
दावा: अक्टूबर ६ को मध्य प्रदेश के मुरैना में कांग्रेस नेताओं द्वारा सम्बोद्धित एक रैली में पार्टी अध्यक्ष राहुल गाँधी ने एक महिला कार्यकर्त्ता का हाथ पकड़ लिया रेटिंग: भ्रामक (misleading) सोशल मीडिया पर एक तस्वीर काफी ज़ोरों से वायरल हो रही है | तस्वीर में कांग्रेस प्रमुख राहुल गाँधी मंच पर एक महिला का हाथ थामे नज़र आ रहे हैं | कई फेसबुक पेज इस फोटो को कुछ ऐसा कह कर शेयर कर रहे हैं: "जनेऊ धारी ने मुरैना में आँख तो नही मारी पर आँख जरूर लड़ा बैठे। ये इनका महिलाओं की सुरक्षा करने का तरीका है" "नर्मदा भक्त राहुल बाबा ने मुरैना में आँख तो नही मारी पर आँख जरूर लड़ा बैठे।" "अगर ऐसे ही मोदी जी किसी #औरत का हाथ पकड़ लेते तो #कांग्रेस मोदी को ही #चरित्रहीन घोषित कर देती ।" फेसबुक पर प्रमुखता के साथ इस फोटो को जिन पेजेज पर शेयर किया गया है उनके नाम हैं
मोदी कहिन
, घनश्याम शुक्ला, राष्ट्रभक्त, जो भी कहूंगा सच कहूंगा | इसी फ़ोटो को ट्विटर हैंडल हिटलर दीदी पर भी शेयर किया गया है जहां इसे अब तक ४७ बार रीट्वीट किया जा चूका है | क्या है फ़ोटो का सच? आपको बताते चले की अक्टूबर ६ को राहुल गाँधी, जो फ़िलहाल मध्य प्रदेश के दौरे पर हैं, एकता परिषद् के कार्यकर्ताओ से मुरैना में मिले और वहीँ पर आदिवासियों को सम्बोद्धित किया | ज्ञात रहे की एकता परिषद् आदिवासियों के जल, जंगल, जमीन के मांगो को अंतर्राष्ट्रीय मानसपटल पर लाने वाली एक सामाजिक संस्था है जिसके संस्थापक सदस्य और प्रेजिडेंट राजगोपाल पी.वी. हैं | कार्यक्रम की शुरुआत जय जगत और एकता परिषद् ज़िंदाबाद के नारों से हुई | राहुल गाँधी के साथ कांग्रेस के कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया तथा अन्य नेता मौजूद थे | सिंधिया, कमलनाथ, और राजगोपाल के संबोद्धन के बाद राहुल गाँधी ने बोलना शुरू किया | राहुल के भाषण की समाप्ति के बाद कार्यकर्ता एक एक कर के उनसे से हाथ मिलाने लगे | इसी दौरान उक्त महिला, जो एकता परिषद् की कार्यकर्ता हैं और पूरे कार्यक्रम के दौरान मंच पर राहुल गाँधी के पीछे बैठी थी, सामने आई और कांग्रेस अध्यक्ष से हाथ मिलाया | उन्होंने राहुल से कुछ बात भी की | मध्यप्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता स्वदेश शर्मा ने बूम को बताया की मंच पर बात करते हुए एकता परिषद् की कार्यकर्ता ने राहुल गाँधी को अपने गाँव आने का निमंत्रण दिया था | अगर वीडियो को ध्यान से देखा जाए तो अन्य कार्यकर्ताओं की तरह ही राहुल गाँधी ने इस कार्यकर्ता से भी हाथ मिलाया था और इसमें कुछ भी आपत्तिजनक नहीं था | वीडियो को 1.27.27 से देखें https://youtu.be/U0GrpiwqJ_g
Show Full Article
Next Story