Connect with us

जानिये संबित पात्रा के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से किये गए ‘किसान मोर्चा विरोधी’ ट्वीट का सच

फ़ेक न्यूज़

जानिये संबित पात्रा के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से किये गए ‘किसान मोर्चा विरोधी’ ट्वीट का सच

सोशल मीडिया पर वायरल हुए भाजपा प्रवक्ता के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से किये गए ट्वीट का यह स्क्रीनशॉट फ़ेक है

 

फ़ेसबुक पेज Punya Prasun Bajpai Fans Club पर हाल ही में शेयर किया गया एक पोस्ट ज़ोरों से वायरल हो रहा है | नई दिल्ली में हो रहे किसानों के विरोध प्रदर्शन से जुड़े एक ट्वीट के स्क्रीनशॉट को फ़ेसबुक यूज़र अली जमील ने इस पेज पर शेयर किया है | पर गौरतलब बात ये है की ट्वीट कथित रूप से भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से किया गया है | कम-से-कम स्क्रीनशॉट देख कर तो यही प्रतीत होता है |

 

 

क्या लिखा है ट्वीट में

 

ब्लू टिक लिए इस ट्विटर हैंडल से किया गया ट्वीट ये है

 

दिल्ली में जो किसान डेरा डाले है ये सब नक्सली है देशद्रोही है केजरीवाल को अगर केजरीवाल को अगर हॉस्पिटल ओर ओर स्कूल बनाने के सिवा कोई काम नहीं राहलु ने अगर पंजाब और कर्णाटक में कर्जा माफ किया तो बड़ी बात नहीं मोदी जी ने कॉर्पोरेट का बहुत बडा कर्जा माफ़ किया है ये किसान देश के तरकी के लिए रोड़ा है (एवमेव)

 

इस पोस्ट को तीस (30) नवंबर 2018 को ट्वीट किया गया है, ऐसा स्क्रीनशॉट से पता चलता है |

 

बूम ने जब पात्रा के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर इस ट्वीट को ढूंढने की कोशिश की तो हमें ये ट्वीट कहीं भी नहीं मिला | वस्तुतः पात्रा के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से नवंबर तीस (30) को कोई भी ट्वीट नहीं किया गया है |

 

इसके अलावा अगर आप गौर से पढ़े तो इस ट्वीट की भाषा भी पात्रा के अन्य ट्वीट्स से काफ़ी अलग जान पड़ती है | कुल मिलाकर ये ट्वीट काफ़ी अर्थहीन सा प्रतीत होता है |

 

दरअसल संबित पात्रा के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल का स्क्रीनशॉट लेकर फोटोशॉप के ज़रिये ये बयान जोड़ा गया है और फ़िर उसे वायरल कर दिया गया है | प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत होता है की यह ट्वीट स्वयं संबित पात्रा ने किया है मगर एक नज़र डालने भर की देर है की सच्चाई खुल के सामने आ जाती है |

 

बूम ने संबित पात्रा से संपर्क करने कोशिश की पर हमें सफलता नहीं मिली | जैसे ही उनका कोई जवाब आता है, हम अपनी रिपोर्ट को अपडेट करेंगे |

 

आपको बता दें की तीस नवंबर को देशभर से चल कर भारी मात्रा में किसान विरोध प्रदर्शन के लिए दिल्ली पहुंचें थे | ये फेक ट्वीट भी उसी प्रदर्शन से संबंद्धित है |

 

 


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

FACT FILE

Opinion

To Top