पुलवामा हमला: गलत संदर्भ के साथ इंडोनेशियाई सैनिकों का एक वीडियो हुआ वायरल

इंडोनेशियन सेना के सैनिकों का एक महीने पुराना वीडियो जिसमें एक युवक पर उन्होंने बंदूक तानी हुई है, गलत सन्दर्भ में वायरल किया जा रहा है

इंडोनेशिया से एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में सेना के दो जवानों को एक कॉंप्लेक्स में प्रवेश करने की कोशिश करते व्यक्ति पर बंदूक ताने दिखाया गया है। यह वीडियो भारतीय सेना के कई फ़ैन पेज पर वायरल हो रहा है और दावा किया जा रहा है कि ये भारतीय सैनिक हैं।

पोस्ट के साथ हिंदी में कैप्शन दिया गया है, जिसमें कहा गया है कि, 'आर्मी के जवान पर गोली चला रहा था ये इंसान'। देखिए क्या हुआ।

वायरल वीडियो का स्क्रीन शॉट

पोस्ट के आर्काइव्ड वर्शन को यहाँ देखा जा सकता है।

8 जनवरी को फ़ेसबुक पेज 'प्राउड ऑफ इंडियन आर्मी' द्वारा पोस्ट किए गए इस वीडियो को 41,000 से अधिक बार शेयर किया गया है। हालांकि, यह वीडियो पुलवामा की घटना के बाद इंटरनेट पर तेज़ी से फ़ैलाया जा रहा है। हालांकि, आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 से अधिक जवान मारे गए हैं। इस वीडियो को श्रवण पटेल नामक फ़ेसबुक अकाउंट पर भी शेयर किया गया है।

यह पोस्ट लगभग एक महीने पुरानी है, इस पर 5300 कमैंट्स में से कम से कम 1600 कमैंट्स 24 घंटे के भीतर ही हो गए थे। इसका मतलब है कि कुल कमैंट्स में से 30 प्रतिशत पिछले 24 घंटों में किए गए थे। कुछ अपवादों के साथ, उनमें से लगभग सभी ’जय हिंद’ हैं या उस व्यक्ति को मारने की अपील करते हैं।

The post has picked up circulation after the Pulwama attack

(पुलवामा हमले के बाद इस वीडियो को तेज़ी से फ़ैलाया जा रहा है)

फैक्टचेक

जब बूम ने इस वीडियो का गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया, तो कुछ पेजों के लिंक सामने आते हैं जिसमे यही वीडियो दिखाई देता है। लगभग सभी मामलों में, वीडियो पर कमोबेश इसी तरह के कैप्शन हैं। गूगल सर्च से पता चलता है कि यह भाषा इंडोनेशिया की है।अनुवाद किए जाने पर इनमें से अधिकांश कैप्शन में लिखा है: 'ओह, भगवान !! इस युवक ने टीएनआई को चुनौती दी और देखा कि क्या हुआ !"

टेनटरा नसिनल इंडोनेशिया (टीएनआई) या इंडोनेशियन नेशनल आर्मी इंडोनेशिया गणराज्य की सैन्य शक्ति है।




इंडोनेशियन कैप्शन के साथ समान वीडियो

हमने इंडोनेशिया-बेस्ड एक फैक्ट चेकर से इस बाबत पता लगाया तो मालुम हुआ की यह एक मॉक मिलिट्री ड्रिल है |

Claim Review :  सेना के जवानों पर हमला करने वालो के साथ सैनिक बखूबी निपटे
Claimed By :  Facebook page of Er Sharvan Patel
Fact Check :  MISLEADING
Show Full Article
Next Story