जलते हुए भारतीय झंडे की तस्वीर हुई गलत सन्दर्भ में वायरल

पोस्ट में इस्तेमाल की गयी तस्वीर दरअसल वर्ष 2014 में पाकिस्तान के कराची शहर में ली गयी थी
सोशल मीडिया पर पुरानी तस्वीरों को गलत सन्दर्भ में वायरल करने का सिलसिला काफ़ी पुराना है | इसी सिलसिले में एक और कड़ी जोड़ते हुए राम भक्त नाम के फ़ेसबुक पेज पर एक तस्वीर इस सन्देश के साथ पोस्ट की गयी है: देख लो हिन्दुस्ता के लोगो आज तिरंगा जला रहे है साले कल लोगो को जलाऐंगे.. सुधर जाओ और मोदी जी का साथ दो.. नही तो बहुत रोना पडेगा...| ज्ञात रहे की यह पोस्ट बारह (12) दिसंबर, यानि की पांच राज्यों के चुनावी नतीजे आने के अगले दिन शेयर किया गया था | पांच में से तीन राज्यों में कांग्रेस ने जीत हासिल की है |
पोस्ट का आर्काइव्ड संस्करण यहां देखें | तस्वीर का असली पहलु बूम ने रिवर्स इमेज सर्च के ज़रिये असल तस्वीर खोज निकाला | ये तस्वीर दरअसल अगस्त 14, 2014, में पाकिस्तान में खींची गयी थी | दिन था पाकिस्तान के आज़ादी का और माहौल था जश्न का | इसी दौरान पाकिस्तान के कट्टरपंथी गुट जमात-उद-दावा के समर्थको ने कराची में भारतीय तिरंगे को जलाकर एक विरोध प्रदर्शन किया था | ये वही तस्वीर है | इस घटना के बारे में पाकिस्तानी न्यूज़पेपर द एक्सप्रेस
ट्रिब्यून ने भी छापा था | फोटो एजेन्स फ्रांस-प्रेस्से (ऐ.ऍफ़.पि.) की है | ज्ञात रहे की इस वक्त दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ा हुआ था और लाइन ऑफ़ कण्ट्रोल पर दोनों ओर से जमकर गोली बारी हो रही थी | इसी तस्वीर को फ़िलहाल गलत सन्दर्भ में सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है |
Show Full Article
Next Story