नरेंद्र मोदी के साल भर पुरानी तस्वीर को G-20 सम्मलेन का बताकर किया गया वायरल

तस्वीर पिछले वर्ष मनिला में आयोजित आसियान शिखर सम्मेलन से है जबकि G-20 सम्मेलन नवंबर 30 - दिसंबर 1, 2018 को बुएनोस आयर्स में आयोजित हुआ था
नवंबर 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आसियान (Asean) शिखर सम्मेलन में शिरकत करने मनिला पहुंचे थे | एसोसिएशन ऑफ़ साउथ एशियन नेशंस के इस सम्मेलन में उस वक्त मोदी की एक तस्वीर खींची गयी थी जिसमें उन्हें विश्व राजनीती के कुछ जाने पहचाने चेहरों से बातचीत करते देखा जा सकता है | तस्वीर में मोदी कुछ बोलते नज़र आ रहे हैं और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प, जापान के प्रधानमंत्री शिंज़ो अबे और अन्य कद्दावर नेता उन्हें गौर से सुन रहे हैं | आज करीब एक साल बाद यही तस्वीर इस सन्देश के साथ सोशल मीडिया पर वायरल की जा रही है:
"G 20 सम्मेलन में मोदी जी के बातो को दुनिया के
शक्तिशाली देश के प्रमुख्य कितना गंभीरता से सुन रहे है इसे कहते है कद्र । जय हिंद जय भारत" ज्ञात रहे की इस तस्वीर को गलत सन्दर्भ में वायरल करने के लिए ये समय बिलकुल अनुकूल है क्यूंकि तीस (30) नवंबर और एक (1) दिसंबर 2018 को साउथ अमेरिका के बुएनोस आयर्स शहर में G-20 सम्मेलन का आयोजन हुआ था | गौरतलब बात ये है की देश के कुछ राज्यों में अभी चुनावों का मौसम भी है | ऐसे वक्त में एक पुरानी तस्वीर को गलत सन्देश के साथ वायरल करना मतदाताओं तक भ्रामक सन्देश पहुंचा सकता है |
तस्वीर का सच वर्ष 2017 में पि.टी.आई. फ़ोटोग्राफर द्वारा ली गयी यह तस्वीर उस वक्त प्रमुखता से अखबारों में प्रकाशित हुई थी | मोदी की यह पहली फ़िलीपीन्स यात्रा थी और यहां वो कई अंतर्राष्ट्रीय स्तर के नेताओं से मिले थे | इस यात्रा पर लाइव मिंट में प्रकाशित रिपोर्ट आप यहां पढ़ सकतें हैं फ़ेसबुक यूज़र रंजीत झा के प्रोफाइल पर पोस्ट किये गए इस तस्वीर को फिलहाल 1,900 बार शेयर किया जा चूका है | पोस्ट का आर्काइव्ड संस्करण यहां देखें |
Show Full Article
Next Story