Connect with us

रेल दुर्घटना के पुराने वीडियो को किया गया गलत संदर्भ में वायरल

रेल दुर्घटना के पुराने वीडियो को किया गया गलत संदर्भ में वायरल

इंदौर-पटना एक्सप्रेस के पटरी से उतरने का तीन साल पुराना वीडियो हो रहा है वायरल। बिहार ट्रेन दुर्घटना के वीडियो होने का किया जा रहा है झूठा दावा।

कानपुर में हुए रेल हादसे का तीन साल पुराना वीडियो एक फर्जी दावे के साथ वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि कि यह वीडियो इस साल बिहार में हुए रेल दुर्घटना का है। वीडियो के कैप्शन में भ्रामक दावा किया गया है कि फुटेज सीमांचल एक्सप्रेस का है जो 3 फरवरी, 2019 को बिहार में पटरी से उतर गई थी।

एक फेसबुक पेज ‘माई रूल्स माई लाइफ’ ने 4 फरवरी को हिंदी में वीडियो को कैप्शन के साथ शेयर किया, ‘न्यूज़ ब्रेकिंग न्यूज: बिहार में बड़ा हादसा देखें लाइव।’

पोस्ट को 5000 से अधिक बार शेयर किया गया है और एक मिलियन से अधिक बार देखा गया है।

जब यूजर्स ने बताया कि यह वीडियो बिहार का नहीं था बल्कि उत्तर प्रदेश का एक पुराना वीडियो था, तो पेज कैप्शन को बदल दिया – ‘ट्रेन का ऐसा हाल ही में कभी नहीं देखा होगा।’ पोस्ट के संग्रहीत संस्करण के लिए यहां क्लिक करें।

नीचे गलत कैप्शन के साथ पोस्ट का स्क्रीनशॉट है।

पोस्ट को फ़ेसबुक पर कई अन्य पेजों द्वारा उसी कैप्शन के साथ शेयर किया गया था।

फैक्ट-चेक

वीडियो पर करीब से नज़र डालने पर, बूम यह पता लगाने में सक्षम था कि यह वीडियो इस साल बिहार में 3 फरवरी को पटरी से उतरने वाली सीमांचल एक्सप्रेस का नहीं बल्कि 2016 में कानपुर में एक रेल हादसे का है जब इंदौर-पटना एक्सप्रेस की बोगियां पटरी से उतर गई थी।

बूम ने यह भी पाया कि वायरल वीडियो के अंत में, पटरी से उतरे डिब्बों में से एक पर ट्रेन का नाम ‘इंदौर- पटना एक्सप्रेस’ स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है। वीडियो में किसी को यह नाम बोलते हुए भी सुना जा सकता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 21 नवंबर, 2016 को उत्तर प्रदेश के कानपुर के पास इंदौर – पटना एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात जिले के पुखरायां में ट्रेन के चौदह डिब्बे पटरी से उतर गए जिसमें 120 लोगों की मौत हो गई थी। (यहां, यहां और यहां पढ़ें)

बूम ने यूट्यूब पर समान वीडियो भी पाया जिसे 24 नवंबर 2016 को ‘डिजिटल मोश’ नामक उपयोगकर्ता द्वारा अपलोड किया गया था और कैफ्शन का हिंदी अनुवाद था – ‘कानपुर ट्रेन हादसा लाइव! इंदौर पटना एक्सप्रेस ।’

वीडियो में, जिसे पास से गुजर रही दूसरी ट्रेन में यात्रियों द्वारा शूट किया गया था, रेल अधिकारियों को डिब्बों के मलबे के पास दुर्घटनास्थल पर देखा जा सकता है।


2016 में यूट्यूब पर वही वीडियो अपलोड किया गया

Claim Review : रेल दुर्घटना के पुराने वीडियो को किया गया गलत संदर्भ में वायरल

Fact Check : False

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

FACT FILE

Opinion

To Top