रवीश कुमार के हवाले से रफाल युद्धक विमान को लेकर वायरल बयान फ़र्ज़ी हैं

बूम ने पाया की प्राइम टाइम में रवीश ने हाल में रफाल की सुपुर्दगी पर कोई एपीसोड नहीं किया है | उन्होंने इसका स्पष्टीकरण भी अपने फ़ेसबुक पर दिया
Ravish-Fake Statement-Rafale Puja

हाल में भारत के विदेश मंत्री राजनाथ सिंह फ्रांस गए थे जहाँ उन्होंने पहले रफाल लड़ाकू विमान, जो दसौं एविएशन ने बनाया है, का उद्घाटन किया जिसमें उन्होंने हिन्दू धर्म की रिवाज़ से ॐ बना कर 'शास्त्र पूजा' की | सोशल मीडिया इसके बाद दो भागों में बंट गया है और कई तरह की टिप्पणियां की जा रही हैं | यह रफाल सेगमेंट का पहला विमान है जो भारत को सौंपा गया है |

इसके चलते एन.डी.टी.वी के वरिष्ठ पत्रकार और रामोन मैग्सेसे विजेता रवीश कुमार के ख़िलाफ भी कई दावे वायरल हो रहे हैं | कई दक्षिणपंति समर्थक फ़ेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर यह दावा वायरल है की रवीश कुमार ने कहा: "राफैल पे ॐ क्यु लिखा गया?क्या राफ़ैल सिर्फ़ हिन्दुओ का है?क्या भारत सेकुलर मुल्क नही रहा अब?उसमे अल्लाह हु अकबर 786 क्यु नही लिखा गया,राफ़ैल के पहियो के नीचे निंबु क्यु रखे गये?क्या ये इस देश के मुसलमानों को डराने की शाजिश नही है??जादा कुछ पूछ भी नही सकते क्युकी डर का माहौल है |😅😅"

यह दावा रवीश कुमार की एक तस्वीर के साथ वायरल किया गया है | तस्वीर का इस्तेमाल पहले भी कई फ़र्ज़ी दावों को रविश कुमार के हवाले से वायरल करने में इस्तेमाल किया जा चूका है जिसपर बूम ने लेख भी लिखे हैं |

आपको बता दें की यह फ़र्ज़ी एवं बेबुनियाद दावा है |

फ़ेसबुक पोस्ट नीचे देखें |

FB-Fake post on Ravish


बूम द्वारा ऐसे ही कुछ दावों पर लेखों को नीचे पढ़ें:

https://www.boomlive.in/photoshopped-image-fake-quote-falsely-attributed-to-ravish-kumar/
https://www.boomlive.in/viral-clip-showing-ravish-kumars-2013-vs-2019-take-on-the-economy-is-misleading/

फ़ैक्ट चेक

बूम ने यूट्यूब पर रवीश कुमार के रोजाना शो प्राइम टाइम पर रफाल को लेकर एपिसोड की तलाश की | हमें चार एपिसोड मिले जो रफाल वाले मुद्दे के दरमियान यूट्यूब पर अपलोड किये गए थे | इन एपिसोड्स में से एक भी रफाल पर आधारित नहीं था | कई मुद्दों पर किया गया प्राइम टाइम भारतीय स्टेट बैंक द्वारा ब्याज दर में घटौती से लेकर ग्रामीण इलाकों में नौकरी का इज़ाफ़े के बारे में और दिल्ली में वायु प्रदुषण में कमी से लेकर दुनिया की अर्थव्यवस्थाओं के ढलान पर होने की वजह से भारत के सामने आने वाली चुनौतियों पर था |

आप नीचे देख सकते हैं | (1, 2, 3, and 4)

Prime Time youtube screenshot
एन.डी.टी.वी. के एपिसोड्स

इसके अलावा रविश कुमार ने अपने आधिकारिक फ़ेसबुक पेज पर भी इस मामले में स्पष्टीकरण जारी किया है | इस स्पष्टीकरण में शुरुआत में ही उन्होंने लिखा:

"रफाल के टायर के नीचे नींबू रखे जाने के विवाद पर मैंने कुछ नहीं कहा। फिर भी आई टी सेल का गैंग मेरे बारे में मीम बनाकर फैला रहा है। इतना बड़ी मशीनरी लगी है मुझे बदनाम करने के लिए। इसे लाखों व्हाट्स ग्रुप में घुमाया जाएगा और लोगों को लगेगा मैंने कहा है और वे नाराज़ होंगे आई टी सेल का गैंग अपने ही समर्थकों को बेवक़ूफ़ बनाता है। वह नहीं चाहता कि लोग सत्य को जानें। वह चाहता है कि लोगों को झूठ का इंजेक्शन देते रहो। नीचे देखिए किस मुझे बदनाम करने के लिए कॉमिक्स की शक्ल में वो लिखा गया है जो मैंने बोला नहीं।…" (Sic)

Claim Review :  रवीश कुमार ने रफाल की पूजा करने पर किये उलटे सीधे सवाल
Claimed By :  Facebook pages and Twitter handles
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story