नहीं, प्रधानमंत्री मोदी ने कुंभ के मेले के दौरान पवित्र स्नान नहीं किया ।

मोदी की पुरानी तस्वीरों को 'अर्ध कुम्भ के मेलें' की तस्वीर बताकर भ्रामक रूप से किया जा रहा है सोशल मीडिया पर वायरल

दावा: "भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी कुम्भ मेले मे डूबकी लगाते हुए.."

रेटिंग: झूठ

सच्चाई: गूगल रिवर्स इमेज सर्च से पता चलता हैं कि फ़ोटो असली है पर प्रयागराज में चल रहे ‘अर्ध कुंभ मेले’ की नहीं है। यह तस्वीरें दरअसल वर्ष 2004 के उज्जैन सिंहस्थ की हैं जिस वक़्त नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे। मोदी को आप इस पवित्र स्नान में हिस्सा लेते हुए देख सकते हैं। 'उज्जैन सिंहस्थ' मध्य प्रदेश के उज्जैन में शिप्रा नदी के तट पर हर 12 वर्ष में आयोजित किया जाता है ।

फ़ेसबुक पर इस पोस्ट को 'राम मंदिर चाहते होतो सामने लाइक करे' नामक पेज पर 1 हज़ार से ज़्यादा शेयर्स मिले हैं।

इस पोस्ट को फ़ेसबुक पर क़ाफी जगह शेयर किया गया है।

इन तस्वीरों को ट्विटर पर भी ट्वीट किया गया हैं।

बूम ने न्यूज़ रिपोर्ट्स के जरिये जाना की यह तस्वीरें अभी की नहीं क़ाफी पुरानी हैं। ज़्यादा जानकारी के लिए आप यहां पढ़ सकते हैं।

Claim Review :  भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी कुम्भ मेले मे डूबकी लगाते हुए..
Claimed By :  facebook
Fact Check :  misleading
Next Story