किम जोंग उन के हवाले से नरेंद्र मोदी के पक्ष में वायरल यह बयान फ़र्ज़ी है

बूम ने पाया की उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता के हवाले से वायरल यह बयान किसी भी मुख्य धारा के मीडिया संस्थान ने प्रकाशित नहीं किया
Kim-Modi

उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन के हवाले से नरेंद्र मोदी के पक्ष में एक बयान वायरल हो रहा है जिसे फ़ेसबुक पर अलग अलग पेजों पर शेयर किया जा रहा है | इन पोस्ट्स को हज़ारों बार शेयर किया गया है जिसे लोग सच मान रहे हैं | यह दावे फ़र्ज़ी हैं |

पोस्ट में रायपुर छत्तीसगढ़ के एक स्थानीय समाचार पत्र के एक लेख की कटिंग है जिसकी हैडलाइन में लिखा है: जो लोग मोदी जी की हत्या करने के बारे में सोच रहे हैं वो एक बार मेरे बारे में जान लें - किम जोंग |

इसके बाद पूरा लेख है जिसमें किम जोंग उन ने भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति लगाव और दोस्ती ज़ाहिर की है | लेख में लिखा है: उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने जब मोदी जी की हत्या की शाजिश करने वालों के बारे में सुना तो उन्हें बहुत ही बुरा लगा, जब प्रेस कांग्रेस में उनसे इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने बहुत ही बड़ा बयान दे डाला हे उन्होंने अपने बयान में कहा की जो लोग मोदी जी की हत्या करने के बारे में सोच रहे हैं वो एक बार मेरे बारे में जान लें की उनका क्या हर्ष होगा, मोदी हमारे बहुत ही करीबी दोस्त हैं, हम उनके लिए कुछ भी करने को तैयार हैं | (Sic)

व्याकरण और शब्दावली के साथ-साथ इसमें दी गयी सूचना भी ग़लत है |

आप ऐसे कुछ पोस्ट्स नीचे देखें और इनके आर्काइव्ड वर्शन यहाँ और यहाँ देखें |

फ़ैक्ट चेक

बूम ने गूगल और यांडेक्स पर कीवर्ड्स खोज की जिसमें अंग्रेजी और हिंदी भाषा के कीवर्ड्स इस्तेमाल किये गए परन्तु हमें ऐसा कोई भी लेख नहीं मिला जहाँ किम ने मोदी को लेकर किसी भी तरह का बयान दिया हो | वायरल लेख को प्रकाशित करने का दिन 9 जून 2018 है जबकि उसमें इस्तेमाल किम जोंग उन की तस्वीर कई सालों पुरानी है | यह हमें खोज के दौरान पता चला | हालांकि तस्वीर कई लेखों में प्रतीकात्मक तौर पर इस्तेमाल की गयी है पर सबसे पुराना लेख 2016 में प्रकाशित हुआ है जो एक स्ट्रेटेजिक डिफेन्स नामक वेबसाइट है |

Defence website
डिफेन्स वेबसाइट का स्क्रीनशॉट

हमें मुख्या धारा के मीडिया संस्थानों द्वारा प्रकाशित कोई भी लेख नहीं मिला जिसमें किम द्वारा ऐसा कोई भी बयान प्रकाशित हुआ हो | दो देशों के नेताओं के बारे में ख़बर अंतर्राष्ट्रीय होती है | जबकि भारत उत्तर कोरिया के साथ रिश्ते बेहतर करने की तरफ इच्छा रखता है परन्तु भारत और उत्तर कोरिया के रिश्ते महज़ राजनयिक हैं |आखिरी बार नरेंद्र मोदी जब उत्तर कोरिया गए थे तब उन्होंने India-Korea Business Symposium में भाग लिया था | यह कार्य क्रम फरबरी 2019 में हुआ था |



इसके पहले नरेंद्र मोदी ने 2016 में किम जोंग उन को जन्मदिन की बधाई देते हुए ट्वीट किया था जिसमें मोदी ने किम को अपना अच्छा दोस्त कहा था | हालांकि उत्तर कोरिया और भारत के रिश्ते स्थिर हैं परन्तु घनिष्ठ मित्रता नहीं है | परन्तु किम जोंग उन ने नरेंद्र मोदी को लेकर कभी किसी भी तरह का बड़ा बयान नहीं दिया |

Claim Review :   किम जोंग उन ने कहा: जो लोग मोदी जी की हत्या करने के बारे में सोच रहे हैं वो एक बार मेरे बारे में जान लें
Claimed By :  Facebook pages
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story