Connect with us

जी नहीं, इस वीडियो में अशोक गेहलोत पाकिस्तानी झंडा नहीं लहरा रहें हैं

फ़ेक न्यूज़

जी नहीं, इस वीडियो में अशोक गेहलोत पाकिस्तानी झंडा नहीं लहरा रहें हैं

गलत सन्दर्भ के साथ वायरल हुए इस वीडियो में गेहलोत दरअसल मिलाद-उन-नबी के मौके पर एक जुलूस को हरी झंडी दिखा रहें हैं

 

जैसे-जैसे राजस्थान में चुनावी सरगर्मी बढ़ रही है वैसे-वैसे फ़ेक न्यूज़ का बाज़ार भी गर्म होता जा रहा है | हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल हुआ यह वीडियो भी इसी सिलसिले में जुड़ती एक और कड़ी है | राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेशनल जनरल सेक्रेटरी अशोक गेहलोत से संबंद्धित इस वीडियो को अलग-अलग फ़ेसबुक पेजों से अलग-अलग संदेशों के साथ वायरल किया गया है |

 

 

आर्काइव्ड संस्करण यहां देखें |

 

वीडियो में गेहलोत एक रैली में मंच पर खड़े हो कर हरे रंग का झंडा लहराते दिखाई देते हैं | भीड़ कुछ नारें लगाती है और फिर गेहलोत मुड़ जाते हैं | जितने भी सन्देश इस वीडियो के साथ शेयर किये गए हैं उनका सार करीब करीब ये है की गेहलोत ने अपने रैली में पाकिस्तान का झंडा लहराया है | नीचे पढ़े वो संदेश जो इस वीडियो के साथ शेयर किये गए हैं |

 

#राजस्थान #अशोक #गहलोत की रैली मैं #पाकिस्तान के #झंडे | और दो सालो कांग्रेस को वोट …….

 

ईस हरे झंडे वाले को पहचानने कि. कोशिश करो कोन है मुझे पिछे से थोडा़ चेहरा दिखाई दिया लेकिन आप सायद पुरा पहचान सकते हो

 

इस्लामिक नारेबाजी के बीच इस हरे झंडे फहराने वाले को पहचानने की कोशिश करो कौन है मुझे पीछे से थोडा़ चेहरा दिखाई दिया लेकिन आप शायद आप सही पहचान सकते हो।

 

अगर आप इस पोस्ट के कमैंट्स सेक्शन को पढ़ें तो मालूम होता है की यह फ़ेक न्यूज़ काफी हद तक अपने मकसद में कामयाब हुई है क्यूंकि फ़ेसबुक यूज़र्स में इसे लेकर काफ़ी आक्रोश है और ये इनके कमैंट्स में साफ़ नज़र आ रहा है |

 

 

क्या है इस वीडियो का सच ?

 

बूम ने जब इस वीडियो के कुछ फ्रेम्स पर रिवर्स इमेज सर्च का इस्तेमाल किया तो हमें कोई सफलता नहीं मिली | यूट्यूब पर भी इस क्लिप से जुड़ा कोई भी वीडियो ढ़ंढने में हम असफल रहें | इसके बाद हमने इस वीडियो को अशोक गेहलोत के ऑफिशियल फ़ेसबुक और ट्विटर प्रोफाइल पर ढूंढने की कोशिश की | असल वीडियो हमे अंततः गेहलोत के ऑफिशियल फ़ेसबुक पेज पर मिला |

 

असल वीडियो इक्कीस (21) नवंबर, 2018, को शेयर किया गया था | वीडियो के साथ ये संदेश भी है: आज यहां जोधपुर में ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर आयोजित जुलूस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया

 

 

ज्ञात रहे की पिछले बुधवार (21 नवंबर) को मुस्लिम समुदाय ने मिलाद-उन-नबी मनाया था | इस अवसर पे अक्सर जुलूस निकाले जाते है और गेहलोत भी ऐसी ही एक जुलूस को हरी झंडी दिखा रहे थे |

 

अशोक गेहलोत के सोशल मीडिया टीम के हेड लोकेश शर्मा ने कहा: “यह वीडियो इक्कीस (21 ) नवंबर को शूट किया गया था जब उन्होंने (गेहलोत) मिलाद-उन-नबी के जुलूस को जोधपुर में हरी झंडी दिखाई थी | यह झंडा पाकिस्तान का राष्ट्रीय झंडा नहीं बल्कि इस्लाम से जुड़ा एक धार्मिक झंडा है | ऐसे ही झंडे स्थानीय पर्वों के समय भी लहराए जाते हैं | इस वीडियो का इस्तेमाल उकसाने वाले संदेशों के साथ गलत सन्दर्भ में किया जा रहा है |”

 

आपको ये भी बता दें की वीडियो में भीड़ जो हरे झंडे लहरा रही है वो पाकिस्तान का राष्ट्रीय ध्वज नहीं बल्कि मिलाद-उन-नबी के जुलूसों में लहराए जाने वाले झंडे हैं |

 

बूम ने पाकिस्तानी झंडों से जुड़े एक और फ़ेक न्यूज़ का हाल में ही पर्दाफ़ाश लिया था | पूरी रिपोर्ट यहां पढ़ें |

 

आपको यह भी बता दें की असल में पाकिस्तान का झंडा ऐसा दिखता है |

 

 

ये रिपोर्ट फ़ेक न्यूज़ से लड़ने के लिए बनाए गए प्रोजेक्ट ‘एकता न्यूज़रूम’ का हिस्सा है |

 

अगर आपके पास ऐसी ख़बरें, वीडियो, तस्वीरें या दावे आते हैं, जिन पर आपको शक़ हो, तो उनकी सत्यता जाँचने के लिए आप उन्हें ‘एकता न्यूज़रूम’ को इस नंबर पर +91 89290 23625 व्हाट्सएप करें या यहाँ क्लिक करें I


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

FACT FILE

Opinion

To Top