लोकसभा परिणाम: देखें, इन लड्डुओं ने कितनी दूर की यात्रा की है

अंतिम चरण के मतदान से एक दिन पहले सोशल मीडिया पर बड़ी मात्रा में तैयार किए जा रहे लड्डुओं की तस्वीर यह दावा करती हैं कि ये भाजपा की जीत की तैयारी थी । तस्वीरें पुरानी हैं

भारी मात्रा में तैयार किए जा रहे लड्डू की एक पुरानी तस्वीर चुनाव के अंतिम चरण के एक दिन पहले सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है । तस्वीर के साथ कैप्शन में दावा किया जा रहा है कि चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की आसन्न जीत को ध्यान में रखते हुए मिठाइयां तैयार की जा रही थीं । कैप्शन में लिखा हैi: लड्डुओं क़ा पहाड़ देख के समझ लो चमचों मोदी की विजय कितनी भयंकर होने वाली है । जय जय श्री राम |)

(वायरल पोस्ट)

कनक मिश्रा नाम के फ़ेसबुक प्रोफाइल पर शेयर की गई तस्वीर का अर्काइव्ड वर्शन तक यहां पहुंचा जा सकता है । तस्वीर को फ़ेसबुक पर कई व्यक्तिगत प्रोफाइल और समूहों पर समान कैप्शन के साथ शेयर किया गया है ।

( फ़ेसबुक पर वायरल )
( फ़ेसबुक पर वायरल )

फ़ैक्ट चेक

जब बूम ने तस्वीर पर एक रिवर्स इमेज सर्च चलाया, तो हमने पाया कि यह पहले भी एक अलग दावे के साथ वायरल हुआ था । इस साल जनवरी में, तस्वीर को एक कैप्शन के साथ साझा किया गया था जिसमें लिखा था: हरयाणा में जेजेपी का हुआ हाल बेहाल | ये देखो जेजेपी का हाल | अब इनके 20 क्विंटल लड्डू का बीजेपी वाले मज़े करेंगे | बहुत उड़ रहे थे ये सब 2 दिन पहले से |

(अलग कैप्शन के साथ उसी तस्वीर का उपयोग करते एक अन्य पोस्ट )

इसके बाद, यह पोस्ट 28 जनवरी को हरियाणा के जींद में हुए उपचुनावों में भाजपा को जीतने के संदर्भ में वायरल हुई । दिसंबर 2018 में दुष्यंत चौटाला द्वारा गठित जननायक जनता पार्टी (JJP) ने उप-चुनावों में दूसरा स्थान हासिल किया।

दिलचस्प बात यह है कि बीबीसी हिंदी ने दावे को वापस नकली बताते हुए एक फ़ैक्ट चेक किया था ।

मूल तस्वीर?

बूम ने अगस्त 2018 में फ़ेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल से शेयर की गई इसी तस्वीर को पूरी तरह से अलग कहानियों के साथ पाया ।



हमें 2018 का एक ट्वीट भी मिला जिसमें दावा किया गया था कि ये लड्डू रोहतक में महाकबीर भंडारे के लिए बनाए जा रहे हैं ।



जबकि ट्वीट में और कि वायरल पोस्ट में शेयर की गई तस्वीरें समान नहीं हैं, बैकग्राउंड में दिखाई देने वाला सफेद टेंट समान दिखता है।

( ट्विटर और वायरल पोस्ट पर मिली तस्वीरों की तुलना )

हालांकि, बूम स्वतंत्र रूप से यह स्थापित नहीं कर सका कि तस्वीर कहां से थी, हम इसे जून 2018 से ट्रेस कर सकते हैं, इस प्रकार यह साबित होता है कि यह फोटो कुछ समय पहले से सोशल मीडिया पर है ।

Claim Review :   भाजपा की जीत के लिए बने लड्डू
Claimed By :  Facebook handles
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story