जानिये 1948 ओलंपिक्स में बगैर जूतों के भारतीय फुटबॉलर्स, और नेहरू के कुत्ते की हवाई यात्रा का सच

नेहरू की अपने पालतू कुत्ते के साथ की वायरल तस्वीर वर्ष 1961 की है जबकि दूसरी तस्वीर वर्ष 1948 में हुए लंदन ओलंपिक्स की
दावा : वर्ष 1948 लंदन ओलंपिक्स में भारतीय खिलाड़ियों के पैरों में जूते नहीं थे पर तब के प्रधानमंत्री नेहरू अपने पालतू कुत्ते के साथ हवाई यात्रा करते थे। रेटिंग : झूठ सच्चाई : वर्ष 1948 में आज़ादी के बाद ओलिंपिक श्रृंखला में प्रथम बार भाग ले रही भारतीय फुटबॉल टीम बगैर जूतों के नंगे पांव मैदान में उतरी थी। इस मैच में भारतीय टीम 0 - 2 हार गयी थी । फ़ेसबुक पर 'मोदी नामा' नामक पेज पर इस पोस्ट को 3,500 से ज़्यादा बार शेयर किया जा चुका है। इस पोस्ट को
यहाँ
भी शेयर किया जा रहा है। इस पोस्ट में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को उनके पालतू कुत्ते के साथ हवाईजहाज़ से उतरते दिखाया जा रहा है । कैप्शन में लिखा हुआ है ,"1948 के लंदन ओलिंपिक में भाग लेने गई भारतीय फुटबॉल टीम के पास फुटबॉल खेलने वाले जूते नहीं थे। और उस दौर में नेहरू का कुत्ता हवाईजहाज़ में घूमा करता था।" दरअसल नेहरू की अपने पालतू कुत्ते के साथ की तस्वीर वर्ष 1961 की दिल्ली के पालम एयरपोर्ट की है । इस तस्वीर को वर्ष 1948 में हुए लंदन ओलंपिक्स के साथ जोड़कर लोगो को गुमराह करने की कोशिश की जा रही है। टाइम्स ऑफ़ इंडिया की इस तस्वीर को आप नीचे देख सकते हैं ।
बूम ने जब ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन से बात की तब असिस्टैंट पी.आर.ओ. रमेश त्यागी ने बताया , "उस दौर में जूतों के आभाव के कारण खिलाड़ी लंदन ओलंपिक्स में बिना जूतों के खेले थे |" और ज़्यादा जानकारी के लिए लंदन ओलंपिक्स से जुडी कहानी को आप यहाँ , यहाँ और यहाँ भी पढ़ सकते है।
Show Full Article
Next Story