हांगकांग विरोध की तस्वीरें उत्तर प्रदेश में सीपीआई(एम) की रैली के रूप में वायरल

बूम ने पाया कि सभी तस्वीरें हांगकांग में प्रत्यर्पण बिल के ख़िलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन की हैं
Hong Kong protest

हांगकांग में विरोध प्रदर्शन की चार तस्वीरों का एक सेट फ़ेसबुक पर झूठे दावों के साथ सामने आया है । कहा जा रहा है कि ये लखनऊ में योगी आदित्यनाथ सरकार के ख़िलाफ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) द्वारा विरोध मार्च की तस्वीरें हैं ।

फ़ेसबुक के साथ बंगाली में लिखे पोस्ट में दावा किया गया है, “बीजेपी द्वारा लाई गई चीजें, जो मीडिया आपको कभी नहीं बताएगा। योगी सरकार के कुशासन के ख़िलाफ लखनऊ, उत्तर प्रदेश में सीपीआई(एम) की रैली।”

( बांग्ला में - : #যেটাবিজেপিরকেনামিডিয়াদেখায়_না উত্তর প্রদেশের রাজধানী লখনোতে যোগী সরকারের কুশাসনের বিরুদ্ধে সিপিএম এর মহা মিছিল ।)

तस्वीरों में सड़कों पर भारी भीड़ दिखाई दे रही है ।

पोस्ट के आर्काइव्ड वर्शन के लिए यहां क्लिक करें ।

फ़ैक्ट चेक

हमने एक रिवर्स इमेज सर्च चलाया और पाया कि सभी चार तस्वीरें हाल ही में हांगकांग में एंटी-प्रत्यर्पण कानून संशोधन विधेयक (ईएलएबी) का भाग के रूप में हुए प्रदर्शनों की हैं |

हांगकांग में चल रहा विरोध, एंटी-ईएलएबी प्रत्यर्पण बिल के ख़िलाफ एक प्रदर्शन है । प्रदर्शनकारियों का कहना है कि यदि विधेयक अधिनियमित किया जाता है, तो यह हांगकांग के नागरिकों की नागरिक स्वतंत्रता और स्वराज्य को कमजोर करेगा ।

पहली तस्वीर

यह तस्वीर 7 जुलाई, 2019 को एसोसिएटेड प्रेस के 'किन चेंग' द्वारा क्लिक किया गया था और यह एपी इमेज अर्काइव पर उपलब्ध है । इस तस्वीर के साथ दिए गए वर्णन में लिखा है: “प्रदर्शनकारी 7 जुलाई, 2019 रविवार को हांगकांग में एक मार्च में भाग ले रहे हैं । हजारों लोग, काली शर्ट पहने और कुछ ब्रिटिश झंडे लेकर रविवार को हांगकांग में मार्च कर रहे थे । वह मेनलैंड चीनी दर्शकों को लक्षित कर रहे थे, जैसा कि एक महीने पुराने विरोध आंदोलन से बिल निरस्त होता नज़र नहीं आ रहा है। "

Image by Associated Press’ Kin Cheung on July 7, 2019
Image by AP

दूसरी तस्वीर

तस्वीर 16 जून, 2019 को ब्लूमबर्ग के लिए पाउला ब्रोंस्टीन द्वारा ली गई थी । इसका उपयोग समाचार लेख में किया गया था, जिसकी हेडलाइन थी, "The Long Game Is China’s Despite a Win for Hong Kong’s Protesters” तस्वीर के साथ कैप्शन दिया गया था, "16 जून, रविवार को हांगकांग में एक रैली के दौरान प्रदर्शनकारियों ने मार्च किया।"

Image by Paula Bronstein for Bloomberg on June 16, 2019
Image by Paula Bronstein for Bloomberg-2

तीसरी तस्वीर

यह भी एक एसोसिएटेड प्रेस की तस्वीर है । यह 16 जून, 2019 को एपी के लिए फ़ोटोग्राफर विंसेंट यू द्वारा ली गयी थी । तस्वीर यहां उपलब्ध है ।

Associated Press image
Associated Press image-2

चौथी तस्वीर

चौथी तस्वीर भी हांगकांग के विरोध प्रदर्शन के दौरान शूट की गई है । बूम ने गेटी इमेजेज़ के जिने जी द्वारा शूट किए गए 27 सेकंड के फुटेज को पाया । 21 सेकंड के निशान पर एक रक्षक को लाल छाता और ओवर ब्रिज के एक स्तंभ के साथ देखा जा सकता है । इसे फ़ेसबुक पोस्ट में इस्तेमाल की गई इमेज में भी देखा जा सकता है।

फुटेज को यहां देखा जा सकता है ।

Getty Images-1
Getty Images-2
Claim Review :   उत्तर प्रदेश के लखनऊ में सीपीआई(एम) द्वारा योगी आदित्यनाथ सरकार के ख़िलाफ पदयात्रा
Claimed By :  Facebook pages
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story