असम में पिता द्वारा बेटी की पिटाई का ग्राफिक वीडियो वायरल

वीडियो में मौजूद शख़्स को असम पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है और अब वह जेल में है एवं मुक़दमे का इंतज़ार कर रहा है
बेरहमी से पीटाई करते हुए

असम के एक गांव में 15 साल की लड़की की बेरहमी से पीटाई करने वाले एक व्यक्ति का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

उस व्यक्ति को अधिकारियों ने गिरफ़्तार कर लिया है और उसकी पत्नी - पीड़िता की माँ - द्वारा उसके ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज़ की गई है ।

ग्राफिक वीडियो हुआ वायरल

20 अगस्त, 2019 और 27 अगस्त, 2019 के बीच बूम ने वीडियो ट्वीट्स देखे जिनमें एक आदमी अपनी लड़की की बेरहमी से पिटाई कर रहा था । क्योंकि वीडियो अत्यधिक ग्राफिक और परेशान करने वाला है इसलिए हमने वीडियो का लिंक प्रदान नहीं किया है।

पोस्ट का स्क्रीनशॉट 1
वीडियो का स्क्रीनशॉट
पोस्ट का स्क्रीनशॉट 2
वीडियो का स्क्रीनशॉट

कुछ ट्वीट्स, जिन्हें अब हटा दिया गया है, उनमें दावा किया कि यह घटना केरल में हुई है, जबकि कुछ अन्य लोगों ने कहा कि यह घटना पश्चिम बंगाल या असम की थी ।

वीडियो के पीछे की दुखद कहानी

27 अगस्त, 2019 को द न्यूज मिनट के प्रधान संपादक, धन्या राजेंद्र ने नॉर्थ ईस्ट न्यूज द्वारा इस घटना पर समाचार रिपोर्ट ट्वीट की और कहा कि यह असम के नागांव जिले में हुआ है।



लेख के अनुसार, यह घटना मोवामारी गांव में हुई, जो समगुरी पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आता है।

बूम ने मोवामारी आउट पोस्ट (ओपी) के उप-निरीक्षक ( जो समगुरी पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आता है ) और मामले के जांच अधिकारी, उपेन सरमा से संपर्क किया। सरमा ने पुष्टि की कि वीडियो वास्तव में जुलाई के अंत में असम के मोवामारी गांव में हुई एक घटना से था।

सरमा ने कहा कि पूरी घटना तब शुरू हुई जब 15 वर्षीय लड़की पर उसके पिता और दादी द्वारा वेश्यावृत्ति करने का दबाव डाला जा रहा था।

उन्होंने बताया, “वह पिता और दादी के दबाव में नहीं आ रही थी। तभी पिता ने उसकी बेरहमी से पिटाई कर दी। उन्हें अगस्त 2019 की शुरुआत में गिरफ़्तार किया गया है और अभी भी जेल में बंद है। पीड़िता की मां - जो मुख्य आरोपी की पत्नी है - ने अपने पति के ख़िलाफ़ एफ.आई.आर दर्ज़ की है।”

घटना के बाद लड़की को गंभीर चोटों के साथ अस्पताल ले जाया गया, जहां वह कुछ दिनों तक निगरानी में रही। “वह अब बेहतर है। वह वर्तमान में अपनी मां के साथ अपने मामा के घर पर रह रही हैं जहां वो उसकी देखभाल करते हैं," सरमा ने कहा।

पिता की पहचान जमालुद्दीन के रूप में की गई है | जो पेशे से एक हॉकर है एवं कथित रूप से यौन तस्करी से जुड़ा है। इसके अलावा पुलिस ने दावा किया कि जमालुद्दीन ने अपनी पूर्व पत्नियों में से तीन को वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर करने का प्रयास किया है | जिस पर उन्होंने तलाक के लिए मुकदमा दायर किया था।

वर्तमान में उसे समगुरी पुलिस स्टेशन में रखा गया है, जहां वो मुकदमे की प्रतीक्षा कर रहा है।

Show Full Article
Next Story