क्या एक ऍफ़.आई.आर लिखवाने के लिए उत्तर प्रदेश में महिला को पुलिस के पैर पकड़ने पड़े ?

ट्विटर पर वायरल हुए वीडियो में एक महिला पुलिस वाले के सामने गिड़गिड़ाती दिखाई देती है | दावा ये है की उसे अपने बेटे की मौत की रिपोर्ट लिखवानी थी

सोशल मीडिया पर एक वीडियो धड़ल्ले से वायरल हो रहा है जिसमे एक औरत को पुलिस चौकी के सामने दरोगा के आगे रोते गिड़गिड़ाते देखा जा सकता है।

ट्वीटर हो या फ़ेसबुक इस वीडियो को हर जगह देखा जा सकता है। वीडियो के साथ कैप्शन में अंग्रेजी में लिखा हुआ हैं: "This video is testimony of the ordeal a common man has to undergo to register an FIR at police station. The elderly woman is literally begging inspector at Lucknow's Gudamba PS and later falls on insp's feet to register an FIR in the death of her son."

अनुवाद: "ये वीडियो गवाही देता है की एक आम आदमी को पुलिस स्टेशन में ऍफ़ .आई.आर दर्ज़ करने के लिए किन किन मुश्किलों से गुज़रना पड़ता है। बुज़ूर्ग महिला लखनऊ के गुडंबा पीएस में इंस्पेक्टर के आगे गिड़गिड़ाती है और बाद में अपने बेटे की मौत की प्राथमिकी दर्ज़ करने के लिए इंस्पेक्टर के पैरों में गिर जाती है।"

बूम की जाँच में ये पता चला है की ये वीडियो असली है और घटना लखनऊ के गुडम्बा पुलिस स्टेशन का है। वीडियो में जो महिला पुलिस इंस्पेक्टर के आगे गुहार लगा रही है वह दरअसल मृत टिंकू यादव की माँ है। टिंकू यादव की महज़ 19 वर्ष की आयु में प्लाईवुड की फैक्ट्री में काम करते हुए एक अकस्मात् दुर्घटना में मौत हो गयी थी। बूम ने जब गुडम्बा थाने के एक इंस्पेक्टर से बात की तो उन्होंने बताया की वीडियो में दिख रहे पुलिस इंस्पेक्टर का नाम तेज प्रताप सिंह है ।

फ़ेसबुक पर इस वीडियो को अन्ऑफिसियल सुब्रमणियम स्वामी नामक पेज पर सत्रह हज़ार व्यूज और 400 शेयर्स मिले है।

ट्विटर पर भी यह वीडियो काफ़ी ट्वीट किया गया है।





क्या है वीडियो का सच

न्यूज़ रिपोर्ट्स के अनुसार यादव की मौत प्लाईवुड की फैक्ट्री में एक कथित अकस्मात् दुर्घटना में हो गयी जिसके बाद ऍफ़.आई.आर ना दर्ज़ करने पर मृत यादव की माँ इन्साफ के लिए पुलिस इंस्पेक्टर के पैरो में गिर पड़ी थी।

बूम ने गुडम्बा पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर धीरज शुक्ल से बात की, उन्होंने बताया की , "वीडियो में दिख रहे इंस्पेक्टर का नाम तेज प्रताप सिंह है। कप्तान साहब के हुक्म पर कार्यवाही करते हुए उन्हें लाइन हाज़िर कर दिया गया है।"

इसके बाद उस वृद्ध महिला की ऍफ़.आई.आर भी दर्ज़ कर ली गयी |

ज्ञात रहे की गुडम्बा पुलिस स्टेशन को पिछले वर्ष इंटेलिजेंस ब्यूरो द्वारा किये गए सर्वे में देश के सबसे अच्छे तीन थानों में स्थान प्राप्त हुआ था । रिपोर्ट आप यहां पढ़ सकते हैं |

Show Full Article
Next Story