2018 का वीडियो भ्रामक दावे के साथ फिर वायरल

दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहा शख़्स भाजपा विधायक अनिल उपाध्याय है.

Claim

BJP विधायक #अनिल_उपाध्याय की हिम्मत तो देखिये जब पुलिस का ये हाल है तो आम जनता का क्या होगा @narendramodi के रामराज्य में आप जी रहे,मेरे सत्य के प्रतीक देशवासियों आप भी देख लो ⁦@myogiadityanath का रमराज्य

Fact

बूम ने पाया कि वायरल वीडियो वर्ष 2018 का है. वीडियो में पुलिस वाले पर प्रहार करता दिख रहा शख्स भारतीय जनता पार्टी का कॉर्पोरेटर था और घटना मेरठ से थी. न्यूज़ रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना कॉर्पोरेटर के होटल में घटित हुई थी. इसी पुराने वीडियो को अब गलत नाम के साथ वायरल किया जा रहा है.

To Read Full Story, click here
Claim Review :   BJP विधायक #अनिल_उपाध्याय की हिम्मत तो देखिये जब पुलिस का ये हाल है तो आम जनता का क्या होगा @narendramodi⁩ के रामराज्य में आप जी रहे,मेरे सत्य के प्रतीक देशवासियों आप भी देख लो @myogiadityanath ⁩ का रमराज्य
Claimed By :  Social media pages
Fact Check :  Misleading
Show Full Article
Next Story