जवाहरलाल नेहरू को थप्पड़ मारने वाले दावे का सच क्या है?

वायरल पोस्ट के साथ दावा किया गया है कि स्वामी विद्यानंद विदेह ने 1962 में नेहरू को थप्पड़ मारा था.

Claim

"आज का यह बोधिक कॉन्ग्रेसी मित्रों को समर्पित 👇 जब प्रधानमंत्री नेहरु को गाल पर पडा था एक चांटा..!!..."

Fact

बूम ने अपनी खोज में पाया कि नेहरू ने कहीं भी ऐसा भाषण नहीं दिया है. वायरल हो रही तस्वीर 1 जनवरी 1962 की ज़रूर है परन्तु यह जवाहरलाल नेहरू को एक भगदड़ के कारण गिरने से बचते हुए दिखाती है. यह तस्वीर एसोसिएटेड प्रेस की आर्काइव में मिली. उनके गार्ड उस वक़्त पटना में कांग्रेस पार्टी की एक मीटिंग के दौरान मची भगदड़ में उन्हें गिरने से बचा रहे हैं. हमनें कई कीवर्ड्स के साथ खोज की परन्तु वायरल दावे जैसा कोई भाषण हमें नहीं मिला. ना ही हमें कथित स्वामी द्वारा नेहरू को थप्पड़ मारने की कोई रिपोर्ट मिली. स्वामी विद्यानंद विदेह के बारे में खोजने पर हमें वेद संस्थान वेबसाइट मिली. विदेह इस संस्था के संस्थापक हैं. पूरा लेख नीचे पढ़ें.

To Read Full Story, click here
Claim Review :   साल 1962 की हार के बाद जवाहरलाल नेहरू को स्वामी विद्यानंद विदेह ने थप्पड़ मारा था. कारण: नेहरू ने कहा था कि आर्य भारत के शरणार्थी हैं. इसके बाद स्वामी विद्यानंद विदेह, जो मुख्यअतिथि थे, ने उन्हें थप्पड़ मारा था...
Claimed By :  Facebook post
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story