Connect with us

केरल से एक महिला की हत्या का नाट्य रूपांतर करता एक स्ट्रीट प्ले का वीडियो हुआ फिर से वायरल

फ़ेक न्यूज़

केरल से एक महिला की हत्या का नाट्य रूपांतर करता एक स्ट्रीट प्ले का वीडियो हुआ फिर से वायरल

कर्नाटका की वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर आधारित एक स्ट्रीट प्ले का वीडियो गलत सन्देश के साथ फ़िर हो रहा है सोशल मीडिया पर वायरल |

 

 

दावा: केरल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की समर्थक महिला को मुस्लिम युवकों ने मारी गोली |

 

रेटिंग : झूठ

 

सच्चाई : “केरल में R.S.S समर्थक एक हिन्दू महिला को मुसलमानो ने मारी गोली ” इस कैप्शन के साथ वायरल हो रहा वीडियो दरअसल फ़ेक है। इस वीडियो में कोई हत्या नहीं हो रही बल्कि यह एक नुक्कड़ नाटक की वीडियो रिकॉर्डिंग है |

 

फ़ेसबुक पर इस वीडियो को 14 हज़ार से ज़्यादा बार देखा गया है।

 

 

 

इस स्ट्रीट प्ले का मूल उद्देश्य गौरी लंकेश की हत्या के पीछे हुई साजिश के बारे में लोगो को बताना और उन्हें जागरूक करना था | लंकेश को कथित तौर पर R.S.S. के लोगो ने मौत के घाट उतार दिया था। उनकी क़त्ल का कारण R.S.S के खिलाफ उनकी मुखर लेखनी तथा सांप्रदायिक ताकतों के विरुद्ध आवाज़ उठाना बताया जा रहा है | इस नाटक के ज़रिये ‘फ़ासीवाद के खिलाफ मौन रहना खतरनाक साबित हो सकता है’ जैसे सन्देश को भी फ़ैलाया  गया ।

 

इस वीडियो को इंडिया टुडे ने अपनी वेबसाइट पर पहली बार प्रकाशित किया था |

 

द न्यूज़ मिनट ने अपने 5 सितम्बर की एक रिपोर्ट में इसी नुक्कड़ नाटक के वीडियो को अपलोड किया था | यह नाटक केरला के मल्लापुरम ज़िले में डेमोक्रेटिक युथ फेडरेशन ऑफ़ इंडिया के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शित किया था | नाटक गौरी लंकेश के हत्या पर आधार करके बनाया गया था |

 

@अमितेशK1 नामक एक ट्विटर हैंडल ने भी इसी वीडियो से मिलते जुलते एक वीडियो को शेयर किया था |

 

 

 

मलयालम में हो रहे स्ट्रीट प्ले का हिंदी में अनुवाद

 

हमलावर: उसे मार डालो |

 

लीड अभिनेता: वह R.S.S के खिलाफ लड़ी और खड़ी हुई | उनके खिलाफ बोली | आखिरकार R.S.S ने उसे ख़त्म कर दिया |

 

किस लिए ? आपने इस गरीब पत्रकार को क्यों मार दिया ?

 

हमलावर: हम R.S.S के सैनिक हैं, देशभक्त हैं |

 

लीड अभिनेता: क्या आपने इन्हे सुना ? जिन्होंने स्वतंत्रता संग्राम को धोखा दिया, जिन्होंने महात्मा गांधी को गोली मार दी। वे R.S.S के लोग हैं। यह खतरनाक है। मौन रहना खतरनाक है। फ़ासीवाद के बाद अब R.S.S का कट्टरपंथ आपके रसोईघर तक प्रवेश कर चुका है, ये बेहद खतरनाक है |

 

दर्शक: हाँ, चुप्पी खतरनाक है |

 

लीड अभिनेता: R.S.S, जिन्होंने गुजरात की मिट्टी से लगभग 2,000 अल्पसंख्यक समुदाय को हटा दिया | R.S.S, जिन्होंने कलबुर्गी, गोविंद पंसारे की हत्या कर दी । R.S.S, जो उनके खिलाफ लिखते हैं और बोलते हैं, उन्हें हटा देता है।

 

 

बीजेपी ने इसी विषय के सन्दर्भ में संघ परिवार को लंकेश की हत्या से जोड़ने के लिए इतिहासकार रामचंद्र गुहा को कानूनी नोटिस भी भेजा है।

 

ये वीडियो फ़ेसबुक और ट्विटर पर धड़ल्ले से एक बार फ़िर से शेयर किया जा रहा है।

 

बूम ने कुछ दिन पहले इसी विषय पर एक कहानी की थी जिसे यहाँ पढ़ा जा सकता है।

 

 


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

FACT FILE

Opinion

To Top