बिशप फ्रैंको मुलक्कल के नाम से बलात्कार पर फ़र्ज़ी बयान हो रहा है वायरल

तस्वीर एक वेबसाइट के माध्यम से बनाई गई थी जिसमें एक समाचार बुलेटिन की नकल करते हुए स्क्रीनशॉट बनाया गया है
Franco Mulakkal-Fake Quote

नन के साथ बलात्कार के आरोपी, फ्रैंको मुल्क्कल के कोट के साथ एक नकली समाचार बुलेटिन का स्क्रीनग्रैब फ़ेसबुक पर तेजी से वायरल हो रहा है ।

इस तस्वीर में मुलक्कल की एक तस्वीर दिखाई गई है, जो जलंधर के रोमन कैथोलिक सूबे के बिशप हैं । वह प्रेस के साथ बातचीत कर रहे हैं । साथ ही उनके नाम से बलात्कार पर फ़र्ज़ी बयान को दिखाया जा रहा है ।

नकली बयान नन और मुलक्कल के बीच कथित यौन विवाद को ईसाई धर्म से संबंधित है और इसे पवित्र अनुष्ठान और प्रबोधन का कार्य कहा जा रहा है ।

इसके अलावा, तस्वीर में टेक्स्ट का पूरा बयान है जिसे ग़लत तरीके से मुलक्कल के नाम से जोड़ा गया है । बयान में लिखा है: “मेरे और नन के बीच जो कुछ भी हुआ, वह बलात्कार नहीं है । इस पवित्र यीशु की अस्तित्व को महसूस करने के लिए प्रबुद्धता का अनुष्ठान है: बिशप फ्रैंको मुलक्कल, बलात्कार के आरोपी ।"

केरल की एक अदालत ने 11 नवंबर से शुरू होने वाले मुकदमे में उपस्थित होने के लिए मुलक्कल को बुलावा भेजा था । भारत में रोमन कैथोलिक डायस्पोरा के एक वरिष्ठ सदस्य, मुलक्कल को पिछले साल एक नन द्वारा 2014 और 2016 के बीच केरल में कुरविलंगड़ कॉन्वेंट द्वारा बार-बार बलात्कार करने और यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने के बाद ग़िरफ़्तार किया गया था । मुलक्कल ने आरोपों से इनकार किया है ।

नकली बयान फ़िर वायरल

यह बयान 2018 में भी वायरल हुआ था, जब मधु किश्वर सहित कई हैंडल ने यह ट्वीट किया था ।



इसे एक पैरोडी अकाउंट द अनपेड टाइम्स ने भी ट्वीट किया था ।



फ़ैक्ट चेक

बूम यह पता लगा सकने में सक्षम है कि यह कोट नकली है । Breakyourownnews.com का एक वॉटरमार्क वायरल इमेज पर मौजूद है ।

Breakyourownnews.com एक नकली समाचार वेबसाइट जनरेटर है, जहां कोई भी इस पर रैंडम टेक्स्ट के साथ समाचार बुलेटिन बना सकता है । वेबसाइट पर हेडलाइन, टिकर और फ़ोटो अपलोड करने की सुविधा मौजूद है, जो यूज़र को बुलेटिन की प्रतिकृति को मनचाहे टेक्स्ट और तस्वीरों के साथ बनाने में मदद करती है ।

नीचे वेबसाइट के डैशबोर्ड का स्क्रीनशॉट है ।

Screenshot of a website named break your own news
Show Full Article
Next Story