शराब बिक्री पर शिवराज सिंह चौहान के पुराने बयान को क्लिप कर फ़र्ज़ी दावों के साथ वायरल किया गया

बूम ने पाया की जनवरी 2020 में रिकार्डेड असल वीडियो में चौहान दरअसल कमल नाथ सरकार की शराब बिक्री नीतियों पर सवाल उठा रहे थे

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक पुराना, क्लिप किया गया वीडियो सोशल मीडिया पर गलत दावों के साथ वायरल हो रहा है | नौ-सेकंड लम्बे इस क्लिप के साथ दावा किया गया है की चौहान मध्यप्रदेश में शराब बिक्री को बढ़ावा दे रहें हैं |

बूम ने पता लगाया की वायरल वीडियो दरअसल एक ढाई मिनट लम्बे पुराने वीडियो से काटा गया है जिसे स्वयं चौहान ने जनवरी 12, 2020 को ट्वीट किया था |

वायरल क्लिप को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करने के बाद डिलीट कर दिया | इस सिलसिले में भोपाल क्राइम ब्रांच ने सिंह के ख़िलाफ़ ऍफ़.आई.आर दर्ज़ किया है |

नौ सेकंड लम्बे इस क्लिप में आप चौहान को कहते सुन सकते हैं, "क्या कर रहा है ये आबकारी अमला? काहे के लिए बैठा है ये? दारु इतनी फ़ैला दो पूरे प्रदेश में की पिए और पड़ें रहें" |

वायरल वीडियो नीचे देखें और उसका आर्काइव्ड वर्ज़न यहां देखें |





इसी वायरल क्लिप को ट्विटर के कई हैंडल्स से ऐसे ही कैप्शंस के साथ शेयर किया गया है |

फ़ैक्ट चेक

बूम ने Office of Shivraj ट्विटर हैंडल चेक करके इस वीडियो पर मुख्यमंत्री की प्रतिक्रिया का पता लगाने की कोशिश की | इस ट्विटर हैंडल ने जनवरी 12 को शेयर किये गए असल वीडियो को क्वोट-ट्वीट करते हुए कांग्रेस पार्टी पर फ़र्ज़ी खबरें फ़ैलाने का आरोप लगाया था |

असल वीडियो इसी साल जनवरी का है जब कमल नाथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री थें | इस वायरल क्लिप के लम्बे वर्ज़न में आप शिवराज सिंह चौहान को कांग्रेस सरकार की शराब की बिक्री के लिए बनाई गयी नीतियों पर सवाल उठाते देख सकते हैं |

असल वीडियो को चौहान ने जनवरी 12, 2020 को अपने ऑफ़िशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया था |

पुलिसिया कार्यवाही

न्यूज़ रिपोर्ट्स के मुताबिक मध्यप्रदेश पुलिस ने शिवराज सिंह चौहान द्वारा शराब बिक्री पर किये गए एक पुरानी टिपण्णी के वीडियो को एडिट कर के कथित तौर पर फ़र्ज़ी तरीके से वायरल करने के सिलसिले में एक मुकदमा दर्ज़ किया है |

भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के ख़िलाफ़ ऍफ़.आई.आर दर्ज़ करने की मांग भी उठाई है क्यूंकि उन्होंने कथित तौर पर इस वायरल क्लिप को अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया था |

मध्यप्रदेश पुलिस ने सिंह एवं ग्यारह अन्य लोगों के ख़िलाफ़ ऍफ़.आई.आर दर्ज़ की है |

इसी दौरान भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने सिंह द्वारा ट्वीट किये गए वायरल क्लिप का स्क्रीनशॉट अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया है |


Claim Review :   वायरल वीडियो दावा करता है की मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आबकारी विभाग के अफ़सरों को प्रदेश में शराब बांटने का आर्डर दिया है
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story