एक बच्ची की पिटाई का ये वायरल वीडियो भारत से नहीं है

बूम की जाँच में सामने आया की यह वीडियो विंह चाऊ, वियतनाम से है जहाँ एक व्यक्ति ने अपनी बेटी को अनाज के साथ खेलने पर बेहरमी से पीटा

दिल दहला देने वाला वियतनाम का एक वीडियो जिसमें एक पिता अपनी छह साल की बेटी को क्रूरतापूर्वक मार रहा है, इस दावे के साथ वायरल है की घटना भारत में घटित हुई है | वायरल वीडियो के साथ ये दावा किया गया है की वीडियो में दिख रहा व्यक्ति बच्ची को इसलिए मार रहा है क्यूंकि वो एक लड़की है |

बूम ने पता लगाया की यह घटना असल में वियतनाम के विंह चाऊ शहर में हुई थी जहाँ 27 साल के इस व्यक्ति को अपनी बेटी को शारीरिक रूप से प्रताड़ित करने के जुर्म में गिरफ़्तार किया गया है | बच्ची को फ़िलहाल हेल्थ सेंटर की निगरानी में रखा जा रहा है |

वायरल क्लिप में व्यक्ति को बच्ची को एक खंभे से बांधते और पीटते हुए देखा जा सकता है | वीडियो के अगले हिस्सों में जब बच्ची भागने की कोशिश करती है तो व्यक्ति उसे पकड़ कर फिर से मारने लगता है |

यह फ़ुटेज इस दावे के साथ वायरल की जा रही है की पिता ने बेटी की पिटाई तब शुरू की जब उसे पता चला की परिवार में एक बच्ची पैदा हुई है | एक वायरल पोस्ट के साथ बांग्ला में लिखे कैप्शन के एक अंश का अनुवाद है : "एक बेटी पैदा हुई जिसे पिता अपना न सका | बच्ची के पैदा होने के बाद, माँ को अपने पिता के घर बच्ची के साथ भेज दिया गया | वे कुछ सालों बाद वापिस लौटे | इसके बाद बच्ची पर पिता द्वारा प्रताड़न का सिलसिला शुरू हो गया | यह घटना मध्य प्रदेश में रिकॉर्ड की गयी | "

( बंगाली में लिखा अंश : কন্যা সন্তান জন্ম হয়েছে, তাই বাবা মেনে নিতে পারেন নি। জন্মানোর পরই কন্যা সন্তান সমেত বাপের বাড়িতে পাঠিয়ে দেওয়া হয় বৌকে। কিছু বছর পর ফিরে আসে তাঁরা। তারপরই চলে কন্যা সন্তানের উপর বাবার অকথ্য অথ্যাচার। ঘটনাটি মধ্যপ্রদেশের।)

यही वीडियो हिंदी में इस दावे के साथ भी काफ़ी शेयर किया गया है: 'यहां तक ​​कि मैं इस वीडियो के बारे मे नही जानता और न ही भाषा जानता। जहां भी ऐसी क्रूर घटना हुई,क्या वहां के लोगो का कर्तव्य केवल इस वीडियो को बनाना है? मानव समाज के सभी वर्गों को इसकी निंदा करनी चाहिए और समाज को ये भी देखना चाहिए ऐसे क्रूर लोगों पर पुलिस क्या कार्यवाही कर रही है?'

बूम ने इस पोस्ट को लेख में शामिल ना करने का फ़ैसला लिया है क्योंकि यह काफ़ी भयावह है | ऐसी ही एक पोस्ट का आर्काइव्ड वर्ज़न यहाँ देखिये | (अपने विवेक का इस्तेमाल करें )

यह वीडियो फ़ेसबुक पर इन्ही दावों के साथ वायरल है |


हमें ट्विटर पर भी यही वीडियो वायरल मिला |





फ़ैक्ट चेक

बूम ने अपने जांच में यह पाया की वीडियो मध्य प्रदेश से नहीं है | वीडियो में बच्ची को मार रहे व्यक्ति द्वारा बोली जा रही भाषा विदेशी मालूम पड़ती है | इसके बाद हमने वीडियो के कुछ की-फ़्रेम्स को अलग कर उन्हें रिवर्स इमेज सर्च किया और रिजल्ट में वियतनाम की कई न्यूज़ रिपोर्ट्स हमारे सामने आयी |

एक न्यूज़ रिपोर्ट, जो 'नोगाई लाओ दोंग' वेबसाइट पर मई 30, 2020 को प्रकाशित हुई थी, के मुताबिक यह घटना लाइ हुआ कोम्युन नामक जगह पर हुई जो विंह चाऊ शहर में स्थित है | रिपोर्ट के अनुसार चार मिनट लम्बे इस वीडियो को देख इंटरनेट पर लोगों ने ज़ोरशोर से इस पर प्रतिक्रिया दी थी जब इसे फ़ेसबुक पर मई 28, 2020 को अपलोड किया गया था | विंह चाऊ पुलिस घटनास्थल पर तुरंत पहुंची और वीडियो में दिख रहे व्यक्ति को ढूढ़ने में लग गयी ||

पुलिस ने इस व्यक्ति की पहचान दाहन दा के तौर पर की और इसे 26-30 वर्ष के बीच की आयु का बताया | इसे पुलिस की हिरासत में जांच के लिए लिया गया | इस रिपोर्ट में यह भी बताया गया है की दोषी व्यक्ति ने पुलिस के सामने अपनी सबसे बड़ी बेटी को प्रताड़ित करने का जुर्म क़ुबूल भी किया है | इस शख्स ने लड़की की पिटाई करने का कारण ये बताया की वह चावल को मिट्टी से मिला कर खेल रही थी | व्यक्ति के पड़ोस में रहने वाले एक अन्य शख्स ने साड़ी घटना को कैमरे में रिकॉर्ड किया और वीडियो को फ़ेसबुक पर अपलोड कर दिया | हालाँकि घटना की असली तारीख़ स्पष्ट नहीं है |

पीड़ित बच्ची को चोटों के इलाज़ के लिए अस्पताल ले जाया गया जबकि पीड़ित के भाई-बहिन जिनकी उम्र 2 और 4 वर्ष है और जो घटना के गवाह है उन्हें रिश्तेदारों की देख-रेख में रखा गया |


फुनूसकहो नामक वेबसाइट पर पब्लिश किये गए एक न्यूज़ रिपोर्ट के अनुसार हो चीन मिन्ह सिटी पुलिस ने अपने बयान में कहा की दाहन दा एक 27 वर्षीय कर्मचारी है जो अपने तीन बच्चों समेत सरकारी घर में रहता है |

Updated On: 2020-06-13T19:44:28+05:30
Claim Review :   वायरल पोस्ट ये दावा करता है की एक लड़की की बेरहमी से पिटाई का ये वीडियो भारत से है
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story