ये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऑफ़िशियल हवाई जहाज़ का आंतरिक हिस्सा नहीं है

वायरल पोस्ट में दिख रही तस्वीर बोइंग 787-8 ड्रीमलाइनर की है, भारत द्वारा खरीदे गए बोइंग 777-300ER की नहीं।

एक विमान के अंदर की तस्वीर को इस झूठे दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नए आधिकारिक हवाई जहाज बोइंग 777-300ER का इंटीरियर दिखाती है।

पोस्ट के साथ शेयर की जा रही तस्वीर बोइंग 787 ड्रीमलाइनर के वीवीआईपी संस्करण के इंटीरियर की है, बोइंग 777-300ER की नहीं।

'टाइम्स नाउ' वेबसाइट पर 8 जून, 2020 को डाले गए रिपोर्ट के स्क्रीनशॉट के साथ तस्वीर को शेयर किया जा रहा है। रिपोर्ट का शीर्षक है: "भारतीय वायुसेना के पायलटों द्वारा उड़ाया गया, मिसाइल ढाल से सुसज्जित: सितंबर में आने वाले पीएम मोदी के B-777 वीवीआईपी विमान के बारे में सब"। (अंग्रेजी में शीर्षक: "Flown by IAF pilots, fitted with missile shield: All about PM Modi's B-777 VVIP aircraft Arriving in September.")

दो हवाई जहाजों की लागत बताता 'बिज़नेस टुडे' के रिपोर्ट का लिंक भी तस्वीर के साथ साझा किया जा रहा है।

तस्वीर के साथ एक और पोस्ट वायरल है। इसे नीचे देखें |

फ़ेसबुक पर वायरल पोस्ट के आर्काइव यहाँ, यहाँ और यहाँ देखें।

फ़ैक्ट चेक

वायरल पोस्ट की तस्वीर पर एक रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें 'प्राइवेट फ्लाई' का एक लेख मिला। प्राइवेट फ्लाई एक कंपनी है जो चार्टर्ड फ्लाइट की सुविधा प्रदान करती है। लेख बोइंग 787-8 ड्रीमलाइनर पर है, जो बोइंग द्वारा ही निर्मित एक विमान है।

नीचे भ्रामक पोस्ट (बाएं) और प्राइवेट फ्लाई के लेख (दाहिने) की तस्वीरों के स्क्रीनशॉट की तुलना है।


फ़रवरी में सरकार ने राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के उपयोग के लिए एयर इंडिया के 2006 के 68 विमानों के क्रम से दो बोइंग 777-300ER विमानों को निर्धारित किया था। सरकार को ये दो उन्नत सुरक्षा प्रणाली वाले B-777 जुलाई 2020 में प्राप्त होने वाले थे लेकिन कोविड-19 के कारण वितरण को स्थगित कर दिया गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सितंबर 2020 तक ये दोनों एयरक्राफ्ट डिलीवर होंगे।

बूम को भारत सरकार द्वारा आदेशित दो नए B-777 के इंटीरियर की तसवीरें नहीं मिली।

Updated On: 2020-09-09T17:02:13+05:30
Claim Review :   ये तस्वीर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए खरीदे गए बोइंग 777 का इंटीरियर दिखाती है।
Claimed By :  Facebook & Twitter posts
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story