फ़ैक्ट चेक: क्या गूगल मैप्स ने भारत और पाकिस्तान के बीच बनी एलओसी को हटाया?

बूम ने पाया की विवादित सीमा को अब भी देखा जा सकता अगर मैप को भारत के बाहर से देखा जाए

सोशल मीडिया पर वायरल एक मैसेज का यह फ़र्ज़ी दावा है की गूगल मैप्स ने भारत और पाकिस्तान के बीच में मौजूद नियंत्रण रेखा (एलओसी) और भारत और चीन के बीच स्तिथ वास्तविक नियंत्रण की रेखा (एलएसी), दोनों को हटा दिया है | मैसेज यह दावा करता है की इन विवदित सीमाओं को गूगल मैप्स में ग्रे रंग में दिखाया जाता है लेकिन इन्हें अब हटा दिया गया है |

बूम को यह मैसेज व्हाट्सएप्प हेल्पलाइन पर मिला जिसके साथ गूगल मैप्स के भारत-पाकिस्तान और भारत-चीन की कश्मीर के इर्द सीमाओं का स्क्रीनशॉट था |

इस वायरल मैसेज का हिंदी अनुवाद है: ब्रेकिंग न्यूज़: गूगल मैप्स ने एलओसी को हटाया...यह सिर्फ़ कुछ समय की बात है और पीओके हमारा होगा | सिर्फ़ एलओसी ही नहीं बल्कि चीन के साथ एलएसी (वास्तविक नियंत्रण रेखा) को भी हटाया | यूएस शायद चीन को लेकर कुछ खिचड़ी पका रहा है | यह मत भूले की आज यूएस के उच्चतर अधिकारी हमारे एनएसए से पाकिस्तान के ख़िलाफ़ आतंकवाद विरोधी कार्यवाही के लिए मिले और अब यह हुआ | अब बिंदुओ को जोड़ लो |"


हमें यही मैसेज फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी वायरल होता हुआ मिला | फ़ेसबुक पर वायरल एक पोस्ट के साथ ये सन्देश था: गूगल मैप से हटे LOC और LAC, पूरा POK भारत में मिलाया गया


ये भी पढ़ें 2019 के वीडियो को हाल में रेलवे पुलिसकर्मी द्वारा प्रवासी कर्मचारी से घूस लेने के दावे के साथ किया गया वायरल

फ़ैक्ट चेक

बूम ने पाया की यह दावा तथ्यों के हिसाब से गलत है: जबकि यह सही है की गूगल ने मैप से विवादित सीमाओं को भारत के नक़्शे से हटाया है, यह इसलिए नहीं किया गया क्योंकि अमेरिकी सरकार का इसमें कोई हाथ है बल्कि इस लिए हुआ क्योंकि गूगल की संशोधित पॉलीसी के मुताबिक विवादित सीमाओं को स्थानीय कानून के आधार पर दिखाया जाएगा | जिसका यह मतलब है की विवादित सीमा को तब देखा जा सकता है जब मैप को भारत के बाहर से देखा जाए |

फ़रवरी में ईथन रसल, जो गूगल मैप्स में प्रोडक्ट मैनेजमेंट के निदेशक है, ने वाशिंगटन पोस्ट से हुई बातचीत में कहा था की, " हम विवादित क्षेत्रों और सीमाओं के मसलों पर निष्पक्ष है और हम वह हर प्रयास करते है जिससे बिना पक्षपात के विवाद को मैप में ग्रे रंग की धराशायी (dashed) सीमा रेखाओं से दिखाया जा सके | जिन देशों में गूगल मैप्स का स्थानीय वर्ज़न है, वहाँ हम स्थानीय कानून का ही पालन कर नामों और सीमाओं को दिखाते है |"

गूगल की पॉलीसी में विवादित सीमाओं को लेकर हुए बदलावों के बाद आउटलुक इंडिया ने रिपोर्ट किया की एलओसी और एलएसी अब भी देखे जा सकते है जब मैप को भारत के बाहर की सेटिंग कर देखा जाए |

बूम ने इसे जानने के लिए वीपीएन का प्रोयोग करते हुए अमेरिकी सरवर्स के ज़रिये गूगल मैप्स को देखा | हमने यह पाया की भारत-चीन और भारत-पाकिस्तान के बीच दोनों विवादित सीमाओं को अब भी ग्रे-रंग की डॉटेड रेखाओं से देखा जा सकता है जिन्हे लाल गोलों से हाइलाइट कर नीचे दी गयी तस्वीर में देखा जा सकता है |


ये भी पढ़ें फ़ैक्ट चेक: क्या जयपुर में साधू के चिलम से 300 लोग हुए कोरोना पॉज़िटिव?


Claim Review :   वायरल पोस्ट का दावा है की गूगल मैप्स ने एलओसी और एलएसी को भारत के हित में हटाया
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story