चाइना में नमाज़ पढ़ते मुस्लिमों का चार साल पुराना वीडियो फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल

वायरल वीडियो के साथ दावा किया गया है की कोरोनावायरस के डर से चीन में लाखों की तादाद में लोगों ने इस्लाम क़ुबूल किया | बूम ने पाया की ये वीडियो चार साल पुराना है |

बड़ी तादाद में नमाज़ पढ़ते हुए लोगो का एक वीडियो फ़ेसबुक पर इस दावे के साथ वायरल हो रहा है की चीन में बड़ी मात्रा में लोगों ने इस्लाम क़ुबूल कर लिया है |

वायरल वीडियो के साथ एक कैप्शन में दावा किया गया है: "चाइना मे लोग बसें भर भर कर नमाज पढ़ने आ रहे हैं और झुंड के झुंड इस्लाम कुबूल कर रहे हैं। अलहम्दुलिल्लाह बस नाम रहेगा अल्लाह का जो हाज़िर भी है नाज़िर भी है"

बूम ने पाया की चीन के निंगसिआन इलाके का ये वीडियो चार साल पुराना है और मुस्लिमों की एक प्रार्थना सभा के दौरान बनाया गया है | यह वीडियो 2016 में यूट्यूब पर अपलोड किया गया था |

यह भी पढ़ें: चीन में संदिग्ध कोविड -19 मरीज़ों पर पुलिस की कार्यवाही दिखाने वाला वीडियो फ़र्ज़ी है

इस लेख के लिखे जाने तक इस वीडियो को कई फ़ेसबुक और ट्विटर अकाउंट ने शेयर किया जिसे लाखों बार देखा गया है |

पोस्ट नीचे देखें और इसका आर्काइव्ड वर्शन यहाँ देखें |





ट्विटर पर वायरल

यह वीडियो ऐसे ही फ़र्ज़ी दावे के साथ ट्विटर पर भी वायरल है|

नोवेल कोरोनावायरस को विश्व स्वास्थ संगठन ने हाल में एक महामारी घोषित किया है | यह वायरस सबसे पहले चीन के वुहान प्रान्त में पाया गया जिसके बाद से इससे दुनिया में करीब 8,500 लोगों की जान ली है और 2 लाख से ज़्यादा लोगों को संक्रमित किया है | भारत में अब तक इसके वजह से 4 लोगों की जान गयी है और 149 लोग संक्रमित हैं|

बूम वायरस से जुड़ी सूचनाओं को रियल-टाइम में अपडेट कर रहा है |

यहाँ पढ़ें बूम का लाइवब्लॉग

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वीडियो के एक कीफ़्रेम के साथ रशियन सर्च इंजन यांडेक्स पर रिवर्स इमेज सर्च किया | हमनें यही वीडियो, वीडियो स्ट्रीमिंग वेबसाइट डेलीमोशन पर पाया जिसे 2016 में अपलोड किया गया था |


इसके बाद हमनें इनविड पर भी कीफ़्रेम के साथ खोज की और आई.एफ.सी.एन द्वारा प्रमाणित इन्डोनेशियाई फ़ैक्टचेकिंग वेबसाइट टेम्पो.को का एक लेख पाया | इस लेख में भी यूट्यूब पर 20 अक्टूबर 2016 को अपलोड किया गया यही वीडियो मिला | इससे ये तो तय हो जाता है की वीडियो कोरोनावायरस के फ़ैलने से काफ़ी पहले से इंटरनेट पर मौजूद है |

वीडियो नीचे देखें |

वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट मुढ़ियातुलफाटा नामक ब्लॉग में भी इस्तेमाल हुआ था जो 2016 मार्च में प्रकाशित किया गया था | इस लेख में बताया गया है की वीडियो तब की है जब चीन के निंगसिआन इलाके की एक मस्जिद में मुस्लिम सम्प्रदाय के लोगों ने प्रार्थना की थी | लेख में बताया गया है की यह 'हुई' सम्प्रदाय के लोग हैं |

Updated On: 2020-04-02T17:00:00+05:30
Claim Review :  वीडियो दावा करता है की चीन में लोग कोरोनावायरस के डर से इस्लाम कबूल कर रहे हैं|
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story