भारतीय पर्यावरण एक्टिविस्ट को विदेशी बताता पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल

दस वर्षीय पर्यावरण एक्टिविस्ट लिसिप्रिया कँगुजम मणिपुर की रहने वाली हैं.

सोशल मीडिया पर एक फ़ोटो काफ़ी वायरल है जिसमें कम उम्र की एक लड़की ताजमहल (Tajmahal) के पीछे एक पोस्टर लेकर खड़ी है. अपने पोस्टर के जरिए वे ताजमहल के किनारे फैले प्लास्टिक प्रदुषण को उजागर कर रही हैं. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस फ़ोटो को इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि फ़ोटो में दिख रही बच्ची विदेशी पर्यटक है और उसने आगरा में यमुना किनारे फ़ैली गंदगी को लेकर राज्य की भारतीय जनता पार्टी (BJP) शासित सरकार को आईना दिखा दिया.

वायरल हो रहे फ़ोटो में दिख रहा है कि आगरा स्थित विश्व प्रसिद्ध ताजमहल के पीछे काफ़ी कचरा फ़ैला हुआ है. कचरे के बीच एक लड़की अपने हाथ में पोस्टर लिए हुए खड़ी है जिसमें लिखा हुआ है 'Behind The Beauty Of Taj Mahal Is Plastic Pollution'.

(हिंदी अनुवाद: ताजमहल की सुंदरता के ठीक पीछे प्लास्टिक प्रदुषण है)

त्रिपुरा का पुराना वीडियो अग्निपथ स्कीम के विरोध प्रदर्शन से जोड़कर वायरल

इस फ़ोटो में दिख रही लड़की को विदेशी पर्यटक बताते हुए सोशल मीडिया पर कई पोस्ट्स वायरल हैं.

समाजवादी पार्टी के नेता मनीष जगन अग्रवाल ने इस फ़ोटो को ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा है 'विदेशी पर्यटक भी भाजपा शासित योगी सरकार को आईना दिखाने को मजबूर हैं , भाजपा की सरकार में यमुना जी गंदगी से भरी पड़ी हैं ,ताजमहल को खूबसूरती पर ये गंदगी एक बदनुमा दाग है , विदेशी पर्यटक द्वारा सरकार को आईना दिखाना बेहद शर्मनाक है ,भारत और यूपी की ये छवि भाजपा सरकार ने बनाई है'.


स्वतंत्र पत्रकार नाम के फ़ेसबुक पेज ने भी वायरल फ़ोटो में दिख रही लड़की को विदेशी पर्यटक बताकर शेयर किया है.

इतना ही नहीं हिंदी अख़बार हिंदुस्तान ने भी अपने आगरा संस्करण में इस फ़ोटो को छापते हुए तस्वीर में दिख रही लड़की को विदेशी महिला पर्यटक बताया है.


वायरल पोस्ट यहां, यहां, यहां और यहां देखें.

फ़ैक्ट चेक

हालाँकि तस्वीर देख कर हम जान गए थे कि उसमे दिख रही बच्ची लिसिप्रिया हैं, हमने फिर भी सपा नेता द्वारा किए गए ट्वीट को खंगालना शुरू किया.

हमें उस ट्वीट के कोट ट्वीट वाले सेक्शन में एक ट्वीट मिला जिसमें पर्यावरण कार्यकर्ता लिसिप्रिया कंगुजम (Licypriya Kangujam) को टैग करते हुए लिखा गया था कि समाजवादी पार्टी के नेता सोचते हैं कि लिसीप्रिया विदेशी हैं.


इसके बाद हमने लिसिप्रिया का ट्विटर अकाउंट देखा तो उन्होंने 23 जून को ही सपा नेता द्वारा किए गए ट्वीट का जवाब देते हुए अंग्रेज़ी में लिखा था, जिसका हिंदी अनुवाद है, 'हैलो सर, मैं एक गौरवान्वित भारतीय हूं. मैं एक विदेशी नहीं हूं'.


जांच के दौरान ही हमें लिसिप्रिया के ट्विटर अकाउंट पर वायरल फ़ोटो भी मिला जिसे 21 जून को ट्वीट किया गया था जिसमें उन्होंने ताजमहल के किनारे फ़ैल रहे प्लास्टिक कचरे पर चिंता जताई थी.


क्या आदित्य ठाकरे ने ट्विटर बायो से अपना 'मंत्री पद' हटा लिया है?

Claim :   विदेशी पर्यटक भी भाजपा शासित योगी सरकार को आईना दिखाने को मजबूर हैं , भाजपा की सरकार में यमुना जी गंदगी से भरी पड़ी हैं ,ताजमहल को खूबसूरती पर ये गंदगी एक बदनुमा दाग है , विदेशी पर्यटक द्वारा सरकार को आईना दिखाना बेहद शर्मनाक है ,भारत और यूपी की ये छवि भाजपा सरकार ने बनाई है
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  Misleading
Show Full Article
Next Story
Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors.
Please consider supporting us by disabling your ad blocker. Please reload after ad blocker is disabled.