पाकिस्तान में मंदिर में तोड़फोड़ का वीडियो पश्चिम बंगाल से जोड़कर वायरल

नेटीज़ेंस का दावा है कि पश्चिम बंगाल में रोहिंग्या बस्ती के पास स्थित एक मंदिर में तोड़फोड़ करने वाले हमलावर रोहिंग्या मुसलमान हैं.

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में रोहिंग्या मुसलमानों (Rohingya Muslims) द्वारा एक मंदिर में तोड़फोड़ के फ़र्ज़ी दावे से एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है. यूज़र्स का दावा है कि रोहिंग्या बस्ती के पास स्थित एक मंदिर में तोड़फोड़ करने वाले हमलावर रोहिंग्या मुसलमान हैं.

बूम ने पाया कि वायरल दावा फ़र्ज़ी है. मंदिर में तोड़फोड़ करती हिंसक भीड़ का यह वीडियो पाकिस्तान का है.

भीम के पुत्र घटोत्कच के कंकाल के रूप में वायरल तस्वीर का सच

फ़ेसबुक पर वीडियो शेयर करते हुए एक यूज़र ने कैप्शन में लिखा कि "रोहिंग्या मुस्लिम समुदाय की बस्ती के नजदीक का हिंदू मंदिर ,पश्चिम बंगाल, भारत."

पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें.


पोस्ट यहां और आर्काइव वर्ज़न यहां देखें.

India Gate में लिखे हैं स्वतंत्रता संग्राम शहीदों के नाम? फ़ैक्ट चेक

फ़ैक्ट चेक

बूम ने पाया कि वायरल वीडियो पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के रहीम यार खान ज़िले का है जहां बीते 4 अगस्त 2021 को हिंसक भीड़ ने एक मंदिर में तोड़फोड़ की थी.

हमें अपनी जांच के दौरान उक्त घटना से संबंधित कई मीडिया रिपोर्ट्स मिलीं जिसमें उसी वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट इस्तेमाल किये गए थे. मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि यह घटना पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में हुई थी, ना कि पश्चिम बंगाल में, जैसा कि दावा किया जा रहा है.

द डॉन की 5 अगस्त 2021 की रिपोर्ट के अनुसार, रहीम यार खान ज़िले के भोंग क़स्बे में सैकड़ों लोगों की भीड़ ने एक हिन्दू मंदिर में तोड़फोड़ की. यह घटना एक स्थानीय अदालत के उस फ़ैसले के बाद घटित हुई थी जब अदालत ने 9 वर्षीय नाबालिग हिन्दू लड़के को ज़मानत दे दी, जिसने कथित तौर पर मदरसा की लाइब्रेरी में पेशाब किया था.

द डॉन की रिपोर्ट के कवर इमेज में वही दृश्य देख सकते हैं जो मंदिर में तोड़फोड़ करने वाली भीड़ के वायरल वीडियो में है.


हमने पाया कि इसी वीडियो को पहले पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ पार्टी के पाकिस्तानी सांसद रमेश कुमार वांकवानी ने 4 अगस्त, 2021 को ट्विटर पर शेयर किया था.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने 5 अगस्त, 2021 को ट्वीट करते हुए हिन्दू मंदिर में तोड़फोड़ की घटना की निंदा की थी.

हमने वायरल वीडियो और पाकिस्तान की घटना की वीडियो के बीच तुलनात्मक विश्लेषण किया है. दोनों में समानता देखी जा सकती है.


'ब्राह्मण कौम विदेशी है, इनके घर में एसी है'...वायरल तस्वीर की सच्चाई

Claim Review :   पश्चिम बंगाल में रोहिंग्या मुसलमानों ने मंदिर में तोड़फोड़ की
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story