Connect with us

ध्रूव राठी का संपादित वीडीयो वायरल

ध्रूव राठी का संपादित वीडीयो वायरल

संपादित वीडियो में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के विभिन्न साक्षात्कारों की असंबंधित क्लिपिंग शामिल हैं

इंटरनेट शख्सियत ध्रुव राठी यूट्यूब पर विभिन्न प्रकार की तार्किक विसंगतियों पर चर्चा करते हैं। राठी द्वारा हाल ही में अपलोड किए गए एक वीडियो के साथ छेड़छाड़ करके आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को निशाने पर लिया गया है और उनके साक्षात्कारों की क्लिप्स को जोड़ा गया है |

यह पोस्ट फ़ेसबुक पेज ‘india unravelled’ पर शेयर किया गया है | आर्काइव्ड वर्शन देखने के लिए यहां क्लिक करें |

https://web.archive.org/web/20190125055457/https://www.facebook.com/IndiaUnravelled2019/videos/642723189478261/UzpfSTEwMDAyNTY0NzQxMDY5NToxNDI4ODM1OTEzOTE5NTQ2/

इस साल 19 जनवरी को अपलोड किए गए मूल वीडियो में ध्रूव राठी को आकाश बनर्जी के साथ तर्क करते हुए कई तरह की खामियों पर चर्चा करते देखे जा सकता है | राठी ने वीडियो में सात प्रकार के तार्किक विसंगतियों पर चर्चा की है |

Original video featuring Dhruv Rathee and Aakash Banerjee

फैक्ट-चेक

नीचे अरविंद केजरीवाल के साक्षात्कार के वास्तविक वीडियो हैं जहां से ये क्लिप लिए गए थे |

क्लिप 1

मॉर्फ्ड वीडियो में पहली क्लिप को 18 नवंबर, 2016 को बीबीसी द्वारा केजरीवाल के एक साक्षात्कार से लिया गया है | यह साक्षात्कार देश में 500 और 1000 रुपयों के नोटों पर प्रतिबंध लगाने के मुश्किल से दस दिन बाद लिया गया था | केजरीवाल को इस वीडियो के दौरान एंकर पर अपना आपा खोते देखा जा सकता है |

Arvind Kejriwal’s 2016 interview with BBC Hindi

क्लिप 2

दूसरी क्लिप में केजरीवाल को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि “अगर मोदी और अमित शाह 2019 में वापस आते हैं, तो ये देश नहीं बचेगा … यह जोड़ी इस देश को बर्बाद कर देगी, इसे विभाजित कर देगी”

Arvind Kejriwal speaks from the dais in Kolkata on January 19, 2019

वीडियो महागठबंधन की मेगा रैली से है, जो हाल ही में कोलकाता में विपक्षी दलों के द्वारा ताकत के प्रदर्शन के लिए किया गया था | इस साल 19 जनवरी को आयोजित रैली में ममता बनर्जी, एचडी देवेगौड़ा, अखिलेश यादव, एन चंद्रबाबू नायडू जैसे राजनेताओं और अन्य राजनेता एक साथ एक ही मंच पर आये थे |

क्लिप 3

तीसरा क्लिप केजरीवाल के दिल्ली के मुख्यमंत्री बनने के बाद एनडीटीवी को दिए गए पहले साक्षात्कार से लिया गया है। साक्षात्कार 5 जून, 2015 को प्रसारित किया गया था। साक्षात्कार यहाँ देखा जा सकता है | राठी के वीडियो में शामिल किए गए और मॉर्फ किए गए भाग 28:45 काउंटर पर आते हैं।

क्लिप 4

यह दो साल पुराने साक्षात्कार का एक हिस्सा है जो दिल्ली के सीएम ने एबीपी न्यूज़ को दिया था। 5 जनवरी, 2017, को प्रकाशित साक्षात्कार, नोटबंदी के आसपास केंद्रित था |

Arvind Kejriwal’s 2017 interview with ABP news

( अरविंद केजरीवाल का एबीपी न्यूज़ के साथ 2017 का साक्षात्कार )

क्लिप 5

Kejriwal’s 2016 interview with India Today

यह क्लिपिंग एक दो-भाग के साक्षात्कार से ली गई है, जिसे इंडिया टुडे ने 2016 के नवंबर में दिल्ली के सीएम के साथ रखा था। केजरीवाल ने यहां मुद्दों की अधिकता के बारे में बात की थी और जिस हिस्से को शामिल किया गया है उसमें वे वन रैंक वन पेंशन (ओआरओपी) की बात करते हैं |

क्लिप 6

जबकि अन्य सभी वीडियो क्लिप ने आम आदमी पार्टी के बॉस अरविंद केजरीवाल को निशानाबनाया, यह अकेला वीडियो है जो पार्टी विधायक सोमनाथ भारती पर निशाना साधता है | वीडियो 2018 का है जब भारती ने लाइव डिबेट के दौरान सुदर्शन टीवी न्यूज़ एंकर के साथ दुर्व्यवहार किया था | भारती पर बाद में दिल्ली पुलिस ने एफआईआर दर्ज किया था |

Somnath Bharati abusing news anchor during live debate

( लाइव डिबेट के दौरान न्यूज़ एंकर से अभद्र भाषा में बात करते सोमनाथ भारती )

जबकि राठी ने अपने 20 मिनट लंबे वीडियो में किसी भी राजनेता की क्लिपिंग का इस्तेमाल नहीं किया था, इस वायरल फ़र्ज़ी वीडियो में एक पार्टी के खिलाफ छह वीडियो का इस्तेमाल किया गया है |

वीडियो के कमेंट सेक्शन से साफ पता चलता है कि ज्यादातर यूजर्स ने वीडियो को सच समझा है|

Comments on viral Facebook post

Comments on the viral post

(BOOM is now available across social media platforms. For quality fact check stories, subscribe to our Telegram and WhatsApp channels. You can also follow us on Twitter and Facebook.)

Claim Review : ध्रूव राठी का संपादित वीडीयो वायरल

Fact Check : false, satire

Sumit is a fact checker and the News Editor of Boom's Hindi wing. In the six years of his journalistic career, he has worked with the New Indian Express, Times of India and Deccan Chronicle. The dynamic nature of digital media finally made him take the leap from print to online, and don the hat of a digital detective.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

FACT FILE

Opinion

To Top