गोधरा काण्ड के नाम से वायरल की जा रही ये तस्वीर फ़ेक है

ये तस्वीर दरअसल ईस्टर्न डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ कांगो में 2010 में हुए एक धमाके में मारे गए लोगो की है
दावा: कांग्रेस को वोट देने से पहले हिन्दुओ भाई जरा गोधरा कांड भी याद कर लेना जो कांग्रेस की सरकार में मुस्लिमो ने दो बोगियों से भरा हिन्दुओ को तेल छिड़क कर आग में जलाया गया था अगर थोड़ा सा भी हिन्दुओ के प्रति दया हो तो कांग्रेस मुक्त भारत कर दो हमारे हिन्दू भाइयो। रेटिंग: झूठ सच्चाई:सोशल मीडिया पर एक दिल दहला देने वाली तस्वीर इन दिनों काफ़ी वायरल हो रही है | तस्वीर में जली हुई लाशें ज़मीन पर पड़ी नज़र आती हैं तथा उनके इर्द-गिर्द कुछ लोग खड़े देखे जा सकते हैं | वायरल होते इस पोस्ट के साथ एक सन्देश भी है: "कांग्रेस को वोट देंने से पहले हिन्दुओं भाई जरा गोदरा कांड भी याद कर लेना जो कांग्रेस के सरकार में मुस्लिमों ने दो। बोगियों से भरा हुआ हिन्दुओ को तेल छिड़क कर आग में जलाया गया,अगर थोड़ा सा भी हिन्दुओ के प्रति दया है तो कांग्रेस मुक्त भारत कर दो हमारे हिन्दू | भाइयो" इस तस्वीर को व्हाट्सप्प पर भी वायरल किया गया है। व्हाट्सप्प पर इन तस्वीरो को 'बी.जी.पी भाजपा' नामक ग्रुप में गलत सन्दर्भ में शेयर किया जा रहा है। फ़ेसबुक पर इस पोस्ट
'गणेश सीरवी'
नामक अकाउंट पर शेयर किया गया है। बूम ने गूगल रिवर्स इमेज से पाया की गोधरा घटना के साथ साथ दो और छवियों को वायरल किया जा रहा है । फ़ेसबुक पर इस पोस्ट को ढाई हज़ार से ज़्यादा शेयर और लगभग एक हज़ार प्रतिक्रियाएं मिलीं है । इस पोस्ट के संग्रहीत वर्शन में यहाँ देखा जा सकता है । इस छवि में दावा किया गया है की नाइजीरिया में सुन्नी मुसलमानों द्वारा ईसाई जलाए गए थे। इस पोस्ट के संग्रहीत वर्शन में यहाँ देखा जा सकता है । सच क्या है ? आपको बता दें की ये पोस्ट सरासर फ़ेक है | ये तस्वीर दरअसल ईस्टर्न डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ कांगो की है | घटना वर्ष 2010 की है जब एक फ्यूल टैंकर के पलटने से हुए धमाके में करीब 230 लोगो की मृत्यु हो गयी थी | "एक फ्यूल टैंकर के पलटने से हुए धमाके की वजह से आग का एक गोला उठा जो घरों और सिनेमा हॉल्स में वर्ल्ड कप सॉकर देख रहे लोगों की मौत का वजह बन गया," रायटर्स ने अपने रिपोर्ट में कहा | ज्ञात रहे की तस्वीर में दिए गए कैप्शन के अनुसार ये नरसंहार तब हुआ था जब भारत में कांग्रेस का शाशनकाल था। हम आपको बता दे की जब गोधरा काण्ड हुआ था तब केंद्र और गुजरात, दोनों में, भारतीय जनता पार्टी सत्ता में थी |  उस वक्त नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे | इस घटना को बी.बी.सी और रायटर्स  ने भी रिपोर्ट किया था ।
Show Full Article
Next Story