क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नाथूराम गोडसे की मूर्ति पर माल्यार्पण किया? फ़ैक्ट चेक

सोशल मीडिया पर कई ऐसे पोस्ट्स मौजूद हैं जिनमे प्रधानमंत्री की दीनदयाल उपाध्याय की मूर्ति और वि.डी.सावरकर की तस्वीर पर फ़ूल अर्पित करती हुई तस्वीरों को इस दावे के साथ वायरल किया गया है की मोदी गोडसे की मूर्ति पर माला चढ़ा रहे थे
godse and deen dayal upadhyay

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कथित तौर पर नाथूराम गोडसे की मूर्ति का माल्यार्पण करते हुए एक तस्वीर सोशल मीडिया पर काफ़ी वायरल हो रही है | आपको बता दें की यह मूर्ति पूर्व-भारतीय जन संघ के नेता और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता दीनदयाल उपाध्याय की है |

इस वायरल पोस्ट के साथ एक कैप्शन भी जिसमे लिखा है: प्रज्ञा गोडसे को देशभक्त बोलती है, डिवाइडर इन चीफ गोडसे की पूजा करते हैं, क्यूंकि हमारे देश में अब आतंकी देशभक्त कहलाते हैं |

आपको बता दें की गोडसे ने ही जनवरी 30,1948 को महात्मा गाँधी की गोली मार कर हत्या की थी |

modi offers tribute to godse
वायरल पोस्ट

ये, और ऐसे कई अन्य पोस्ट पिछले कुछ दिनों से वायरल हो रहे हैं | ऐसा खासकर भारतीय जनता पार्टी की भोपाल कैंडिडेट प्रज्ञा ठाकुर के उस बयान के बाद हो रहा है जिसमे उन्होंने नाथूराम गोडसे को सच्चे देशभक्त की उपाधि दी थी |

modi pays tribute to godse
इस पोस्ट में भी दावा किया गया है को मोदी गोडसे की मूर्ति पर माला चढ़ा रहे हैं | हालांकि मूर्ति दीनदयाल उपाध्याय की है
modi floral tribute to savarkar
इस पोस्ट में दावा किया गया है की मोदी गोडसे की तस्वीर पर फ़ूल चढ़ा रहे हैं | ये तस्वीर विनायक दामोदर सावरकर की है

इन पोस्ट्स के आर्काइव्ड वर्ज़न्स यहां, यहां और यहां देखें |

हालांकि बाद में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने एक ट्वीट के माध्यम से अपने बयान पर माफ़ी मांगी थी |



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ठाकुर के बयान को संज्ञान में लेते हुए कहा था की वो गाँधी का अपमान करने के लिए ठाकुर को कभी माफ़ नहीं कर पाएंगे | (इसके बारे में और यहां पढ़ें )

फ़ैक्ट चेक

बूम ने उस तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च के सहारे खोजने की कोशिश की जिसमे मोदी एक मूर्ति के सामने हाथ जोड़ कर खड़े हैं और दावा किया गया है की मूर्ति गोडसे की है |

godse bust floral tributes

हमें यही तस्वीर 2017 में प्रकाशित कुछ रिपोर्ट्स के साथ नज़र आयी |

इंडिया टुडे के एक आर्टिकल के अनुसार यह तस्वीर भारतीय जनता पार्टी के सैतींसवे (37th) स्थापना दिवस - 2017 - के दौरान ली गयी थी | प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी भाजपा के अन्य नेताओं के साथ पार्टी हेडक्वार्टर्स (दिल्ली) में थें |

इंडिया टुडे में छपा आर्टिकल




यहीं पर मोदी तथा अन्य नेताओं ने दीनदयाल उपाध्याय को श्रद्धांजलि दी थी और इसी तस्वीर को अब गोडसे बताकर वायरल किया जा रहा है |

ये सावरकर की तस्वीर है, ना की गोडसे की

एक अन्य पोस्ट में मोदी एक तस्वीर पर फ़ूल चढ़ाते नज़र आ रहे हैं | यहां भी यही दावा किया गया है की मोदी ने गोडसे की तस्वीर पर फ़ूल चढ़ाये हैं | आपको बता दें की यह तस्वीर गोडसे की नहीं विनायक दामोदर सावरकर की है |

modi pays floral tributes to savarkar
Claim Review :   पोस्ट दावा करता है की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नाथूराम गोडसे की मूर्ति पर फ़ूल चढ़ाये
Claimed By :  Facebook pages
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story