क्या एक मुस्लिम महिला द्वारा जसोदाबेन पर पूछे गए सवाल ने मोदी को निरुत्तर कर दिया ?

वायरल हो चुके पोस्ट में व्यंगात्मक तौर पर कहा गया है कि महिला ने प्रधानमंत्री से पूछ लिया: जसोदाबेन को इंसाफ कब मिलेगा ?

हाल ही में फ़ेसबुक पर वायरल हुए एक पोस्ट में यह दावा किया गया है कि जब एक मुस्लिम महिला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से यह पूछा की जसोदाबेन को इन्साफ कब मिलेगा तब वो निरुत्तर हो गए |

पोस्ट के साथ शेयर किये गए तस्वीर में मोदी के साथ एक मुस्लिम महिला नज़र आ रही है | जबकि महिला कुछ बोलती दिख रही हैं, मोदी कहीं ओर देखते नज़र आ रहे हैं | पोस्ट के साथ ये सन्देश भी है: जब एक मुस्लिम महिला ने मोदी से कहा हमारी छोड़ो जसोदा बैन को इंसाफ कब मिलेगा, तब मोदी का चेहरा छछून्दर जैसा हो गया |

आपको बता दें कि यह पोस्ट फ़ेक है जबकि यह तस्वीर दिसंबर 29 को वाराणसी में हुए एक कार्यक्रम से है जिसे गलत सन्दर्भ में वायरल किया गया है |

इस तस्वीर को Vote For AIMIM - जो ग्रुप में एड होगा वो 50 दोस्तों को एड करेगा… नामक फ़ेसबुक पेज पर प्रमुखता से शेयर किया गया है | वहाँ इसे करीब 3900 से ज़्यादा शेयर्स मिलें हैं | इसी तस्वीर को Ravish Kumar News और Ajit Pal नामक फ़ेसबुक प्रोफाइल्स पर भी पोस्ट किया गया है |

सच क्या है ?

आपको बता दें की प्रधानमंत्री मोदी के तीन तलाक के मुद्दे पर दिए गए हाल के बयानों को ध्यान में रखते हुए इस पोस्ट को एक कटाक्ष के तौर पर देखा जा सकता है, पर अगर कमैंट्स सेक्शन में लिखे गए कमैंट्स पढ़े जाए तो ऐसा जान पड़ता है की लोगों में इस पोस्ट को ले कर काफ़ी रोष है |

पोस्ट पर आये कमैंट्स

पोस्ट पर आये कमैंट्स

पोस्ट पर आये मीम्स

जैसा की हमने ऊपर बताया, ये तस्वीर दरअसल दिसंबर 29 को प्रधानमंत्री मोदी के कांस्टीटूएंसी वाराणसी में आयोजित एक कार्यक्रम से ली गयी है |

मोदी ने इस कार्यक्रम के अवसर पर इंटरनेशनल राइस रिसर्च इंस्टिट्यूट के साउथ एशिया रीजनल सेंटर कैंपस का वाराणसी में उद्घाटन किया था | असल तस्वीर में प्रधानमंत्री के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ भी नज़र आ रहे हैं |

इस कार्यक्रम के बारे में एक रिपोर्ट नरेंद्र मोदी एप्प पर भी अपलोड किया गया है | असल तस्वीर आप नीचे देख सकते हैं |

असल तस्वीर
Show Full Article
Next Story