क्या बर्थडे बम्प्स ने एक लड़के की जान ले ली? नहीं, 'पीड़ित' जिंदा है और बिलकुल ठीक है

एक लड़के के जन्मदिन पर उसके दोस्तों द्वारा बर्थडे बम्प्स देने का वीडियो वायरल हो रहा है । वीडियो के साथ दावा किया गया है की इस दौरान लड़के की जान चली गई
birthday bumps

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है । वायरल वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि एक युवक के जन्मदिन पर उसके दोस्तों ने उसे बर्थडे बम्प्स दिया जिससे उसकी मौत हो गई । आपको बता दे की ये दावा गलत है और वो लड़का बिलकुल ठीक है |

वायरल वीडियो को पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने भी ट्वीट किया था, जिसे बाद में उन्होंने डिलीट कर दिया |

वीडियो के साथ एक कैप्शन में लिखा है, "ISM के इस विद्यार्थी की मृत्यु हो गयी है क्योंके इसके जन्मदिन पर इसके दोस्तों ने इसे कुछ इस तरह बर्थडे बम्प्स दिए के अगले दिन इसके पेट मे दर्द हुआ।पेनक्रियाज क्षतिग्रस्त हो गए। ऑपरेशन हुआ लेकिन जान नही बच सकी। कृपया हर एक जो इस पोस्ट को देखे कृपया कभी ऐसे बम्पस अपने मित्र को न दे जिसकी वजह से वो आपसे हमेशा के लिए आपसे दूर चला जाए इर आप उसे जीवन भर याद कर पछताते रहे। बच्चों के मात पिता जो इस पोस्ट को देखे वह अपने परिवारों को इसके लिए अलर्ट करे। यह घटना मजाक मजाक में आपके परिवार के साथ भी घटित हो सकती है। शेयर करे



वीडियो फ़ेसबुक और व्हाट्सएप पर भी वायरल है।


birthday bumps
( वायरल पोस्ट )


birthday bumps
( वायरल पोस्ट )

वीडियो में एक लड़के को फ़र्श पर पड़े हुए दिखाया गया है, जिसे लड़कों का एक समूह निर्ममतापूर्वक मार रहा है। पास के टेबल पर दो केक देखे जा सकते हैं। वीडियो के अंत में, युवकों का ये समूह लड़के को उठाता है और उसे मेज़ की ओर लाता है। हालांकि वीडियो में उसे केक काटते हुए नहीं दिखाया गया है, कैप्शन में लिखा है कि यह उसका जन्मदिन था। पोस्ट में दावा किया गया है कि पिटाई के कारण लड़के की मृत्यु हो गई।

फैक्ट चेक

बूम ने घटना के बारे में अधिक इनफार्मेशन निकालने की कोशिश की, लेकिन हमें जो भी रिपोर्ट मिली उसमें दावा किया गया था कि घातक वार के कारण उसकी मृत्यु हो गई थी ।

हालांकि इंडिया टुडे की फैक्टचेक में बताया गया है कि उक्त लड़का जीवित है ।

फैक्टचेकर को वीरेंद्र सहवाग के ट्विटर हैंडल पर एक जवाब मिला जिसमें उन्होंने वही वीडियो पोस्ट किया था ।

जवाब रघुराज नाम के एक शख़्स द्वारा दिया गया है, जो बर्थडे बम्प्स ’के शिकार का दोस्त होने का दावा करता है। हालांकि सहवाग ने ट्वीट डिलीट कर दिया है, पर हमारे पास रघुराज का जवाब है जहां वह कहते हैं कि यह खबर 100% फ़र्ज़ी है ।

raghuraj's tweet

दावे के पीछे का सच

बूम स्वतंत्र रूप से यह स्थापित करने में सफ़ल रहा की वीडियो में दिखाई देने वाला समूह मेडिकल छात्रों का था और यह वीडियो किर्गिस्तान से है न कि भारत से ।

बूम ने रघुराज के साथ व्हाट्सएप के ज़रिये संपर्क किया । उन्होंने हमें बताया कि यह घटना 28 दिसंबर, 2018 की है । इस शर्त पर कि हम बर्थडे बम्प्स के 'पीड़ित' नौजवान के नाम का खुलासा नहीं करेंगे, उसने हमें बताया कि इस तरह की पार्टियों में बर्थडे बम्प्स एक सामान्य बात होती है और उस रात भी ऐसा ही कुछ हुआ था । रघुराज ने कहा: हालांकि वीडियो में ऐसा लग रहा है कि चीजें हाथ से निकल गई थीं लेकिन ऐसा कुछ नहीं था। वह पूरी तरह से ठीक है। ”

रघुराज ने हमें यह भी बताया कि युवक प्रथम वर्ष का छात्र और उसका जूनियर है ।

बूम ने दो अन्य लोगों के साथ भी संपर्क किया, जो इस घटना से जुड़े थे । दीपक आंजना और उनके फ्लैटमेट अमित सिंह परिहार ने भी पुष्टि की कि वायरल वीडियो में दिखाई देने वाला युवक पूरी तरह से ठीक है ।

Claim Review :  वीडियो में दावा किया गया है की बर्थडे बम्प्स की वजह से एक युवक की जान चली गयी
Claimed By :  Facebook pages, Twitter handles
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story