महिला के साथ दुर्व्यवहार का ये वीडियो गुजरात के स्कूल का नहीं, बल्कि दिल्ली पुलिसकर्मी के बेटे का है

यही वीडियो 2018 में वायरल हुआ था और समाचार संस्थानों द्वारा व्यापक रूप से रिपोर्ट किया गया था । वीडियो में एक लड़के को दिल्ली के एक निजी कार्यालय में महिला की पिटाई करते हुए देखा जा सकता है ।

भारत की राजधानी दिल्ली से एक पुलिसकर्मी के बेटे का एक विचलित करने वाला वीडियो फ़ेसबुक पर वायरल हो रहा है । वीडियो में एक शख़्स महिला को बेरहमी से मार रहा है । दावा किया गया है कि वह शख़्स गुजरात के वलसाड में आर.एम.वी.एम स्कूल का शिक्षक है।

30 सेकंड की इस क्लिप में भयावह हमला होते हुए दिखाया गया है । इस वीडियो में आदमी को हिंदी में बोलते सुना जा सकता है, जिसमें वह कह रहा है, "उसका नाम फिर से मत लो।" और वह शख़्स, महिला को लगातार मार रहा है । वीडियो को फिल्माते हुए एक आदमी को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि "रोहित … रुको" लेकिन कोई भी महिला की मदद करने के लिए आगे नहीं आता है।

बूम वीडियो अपलोड नहीं कर रहा है क्योंकि इसमें हिंसा को दर्शाया गया है ।

वीडियो को फ़ेसबुक पर हिंदी में एक कैप्शन के साथ शेयर किया जा रहा है जिसमें दावा किया गया है कि यह वलसाड में गुजरात के आर.एम.वी.एम स्कूल की घटना है । अतीत में, कई असंबंधित हिंसक वीडियो को वायरल करने के लिए इसी कैप्शन का उपयोग किया है ।

हिंदी में लिखा है - “आप के FB पे जितने भी नंबर एवं ग्रुप हैं एक भी छूटने नही चाहिए, ये वीडियो सबको भेजिए ये वलसाड के RMVM SCHOOL का टीचर है इसको इतना शेयर करो की ये टीचर और स्कूल दोनों बंद हो जाए । वीडियो वायरल होने से काफी फ़र्क पड़ता है ओर कार्यवाही होती है जिसे दया न आये वो अपना मुंह (टाइपिंग) बंद रखे।”

( भ्रामक फेसबुक पोस्ट का स्क्रीनशॉट )

फ़ैक्ट चेक

यही वीडियो 2018 में वायरल हुआ था और समाचार संस्थानों द्वारा व्यापक रूप से रिपोर्ट किया गया था । वीडियो में दिल्ली पुलिसकर्मी के बेटे को दिल्ली के एक निजी कार्यालय में एक महिला को मारते हुए दिखाया गया था ।

समाचार रिपोर्टों ने वीडियो में उस व्यक्ति की पहचान रोहित तोमर के रूप में की, जो दिल्ली पुलिस विभाग में एक उप-निरीक्षक, अशोक तोमर का बेटा हैं।

हिंदुस्तान टाइम्स में 14 सितंबर, 2018 के एक लेख में लिखा था, “पुलिस ने कहा कि वीडियो पश्चिमी दिल्ली के एक निजी कार्यालय में तोमर के एक दोस्त द्वारा शूट किया गया प्रतीत होता है । यह एक महिला द्वारा जारी किया गया था न कि वीडियो में दिखाई देने वाले शख्स द्वारा। ”

इंडिया टुडे की एक स्टोरी में कहा गया है कि वीडियो में दिख रही महिला का पता लगाया गया और तिलक नगर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज़ की गई । अपनी शिकायत में महिला ने आरोप लगाया कि तोमर ने तिलक नगर इलाके के एक बीपीओ में उसके साथ बलात्कार किया और उसे पीटा और उसके दोस्त ने इस घटना को फिल्माया था।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने 14 सितंबर, 2018 को वीडियो के बारे में ट्वीट किया था जिसमें कहा गया था कि उन्होंने दिल्ली पुलिस आयुक्त से पूरी जांच करने के लिए बात की थी ।



Claim Review :   वीडियो में वलसाड का टीचर एक लड़की को मार रहा है
Claimed By :  Facebook handles
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story