केंद्र ने कोविड-19 नियंत्रण नियमावली 31 जनवरी तक बढ़ाई

कोविड-19 के बढ़ते मामलों को लेकर केंद्र ने 25 नवंबर को नए नियम लागू किये और पहले दी गयी छूट को वापस ले लिया है|

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सोमवार को कोविड-19 के नए प्रकार के मिलने पर निगरानी, रोकथाम और सावधानी से जुड़े दिशानिर्देश 31 जनवरी 2021 तक बढ़ा दिए हैं |

यूनाइटेड किंगडम में मिले नोवेल कोरोनावायरस के नए प्रकार के बाद विश्व में गंभीरता बढ़ी है | कोविड-19 के बढ़ते मामलों को लेकर केंद्र ने 25 नवंबर को नए नियम लागू किये और पहले दी गयी छूट को बापस ले लिया है|

क्या है नवंबर नियमावली?

गृह मंत्रालय ने नवंबर में नए दिशानिर्देश जारी करते हुए राज्यों को छूट दी कि वे स्थानीय प्रतिबन्ध लगा सकते हैं, सामाजिक मेल-मिलाप में लोगों की संख्या 100 से कम रखी जाए, मास्क न पहनने पर कठोर कार्यवाही हो और केंद्र की मजूरी से स्थानीय लॉकडाउन किया जाए (यदि जरुरत हो) |

होम सेक्रेटरी अजय भल्ला ने क्या कहा?

सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को लिखे एक पात्र में होम सेक्रेटरी अजय भल्ला ने कहा, "आने वाले नए साल के जश्न और सर्दी के मौसम के मद्देनजर मामलों में किसी भी ताजा उछाल को रोकने के लिए सख्त सतर्कता बनाए रखने की जरूरत है, जो वायरस के प्रसार के लिए अनुकूल हैं। इस संबंध में, राज्य / संघ राज्य क्षेत्र सरकारों द्वारा उचित उपाय किए जा सकते हैं |"

कहाँ पहुंची है वैक्सीन?

भारत सरकार टीकाकरण के प्रथम चरण में 30 करोड़ लोगों को कवर करने की योजना बना रही है | टीकाकरण जल्द शुरू होने की संभावना है एवं वैक्सीन का ड्राई रन आज पूरा होगा | नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड-19 ने सरकार सुझाव दिया है कि टीका सबसे पहले हेल्थ केयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स, 50 वर्ष और अधिक आयु वाले लोग और 50 से कम उम्र के लोग जिन्हें कोई बिमारी है, को प्राथमिकता दी जाए |

Show Full Article
Next Story