कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने वीडियो इस्तेमाल कर किया वसुंधरा राजे को टारगेट !

सोशल मीडिया पर सुरजेवाला का बयान हो रहा है धड़ल्ले से वायरल
दावा: कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने दावा किया है कि राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बंद कमरे में हुई एक मीटिंग में अपने कार्यकर्ताओ को जनता को भ्रमित करने के निर्देश दिए थे ताकि वो प्रासंगिक सवाल ना उठा सकें। रेटिंग: झूठ सच्चाई : बूम ने जब मूल वीडियो देखा तो पाया कि राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इन शब्दों का इस्तेमाल विपक्षी पार्टी कांग्रेस की आलोचना करने के लिए किया था | जयपुर में चैनल आज तक द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पैनेलिस्ट के रूप में बोलते हुए रणदीप सुरजेवाला ने कहा:
कुछ देर बाद सुरजेवाला ने ट्वीट किया: "वसुंधरा जी ने अपने कार्यकर्ताओ से आम लोगों को भ्रमित करने के लिए कहा है। वे नहीं चाहती के लोग उनसे पूछे कि क्यों कोई सड़कों का निर्माण नहीं हुआ है, क्यों पानी नहीं है, क्यों कोई नौकरियां नहीं हैं, क्यों लोगों को झुकाया जा रहा है, क्यों किसान असहाय महसूस कर रहे हैंइस प्रकार लोगों को पूरी तरह उलझन में छोड़ दिया जाएगा। यदि राज्य के मुख्यमंत्री यह कह रहे हैं, तो उन्होंने हार मान ली है। " इस ट्वीट को 500 से ज़्यादा रीट्वीट मिलें हैं । सुरजेवाला के ट्वीट के आर्काइव्ड संस्करण को
यहाँ
देखा जा सकता है। राजस्थान में, जहां फ़िलहाल विधानसभा चुनावों के लिए चुनाव प्रचार का दौर चल रहा है, 7  दिसंबर को मतदान होंगे । मूल वीडियो को भारतीय जनता पार्टी में समारोह में देखा गया था। जिसे 'युवारी बात अमित शाह के साथ'  नामक समारोह में देखा जा सकता है। https://youtu.be/qmnmV5QkJx8 राजे को इस वीडियो में कहते हुए देखा जा सकता है की, "कांग्रेस सरकार जिसने गरीबी हटाओ का नारा दिया, इसके बारे में कुछ भी नहीं किया। यदि आप उनसे कारण पूछते हो तो वो कहते है कि, 'गरीबी को कम मत करो। अधिक गरीबी का मतलब है कि हमारे लिए अधिक लाभ और अधिक वोट हैं और लोग प्रश्न पूछने में समय नहीं ढूंढ पाएंगे। जैसे कि उनके पास नौकरियां क्यों नहीं हैं, उन्हें पानी तक पहुंच क्यों नहीं है, सड़कों का निर्माण क्यों नहीं किया जाता है। " सुरजेवाला के ट्वीट के जवाब में, राजस्थान बीजेपी के ट्विटर हैंडल ने एक वीडियो पोस्ट किया है।
फ़ेसबुक पर भी भाजपा ने एक वीडियो पोस्ट किया है।
Show Full Article
Next Story