लंदन सबवे ट्रैक पर अजनबियों को धक्का देने वाले आदमी का खतरनाक वीडियो वायरल

घटनाएं अप्रैल से हैं और हमलावर को हत्या के प्रयास का दोषी पाया गया है।
लंदन भूमिगत ट्यूब स्टेशन पर लोगों को आगाह करने वाले एक संदेश के साथ ट्रेन ट्रैक पर यात्रियों को धक्का देने का एक वीडियो फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप जैसे सोशल मीडिया साइट्स पर वायरल हो रहा है। क्लिप के साथ एक सन्देश भी है जो कुछ इस तरह है: "सभी को शुभसंध्या। कृपया अगर ब्रिटेन में, विशेष रूप से लंदन में आपके रिश्तेदार और मित्र हैं, तो कृपया उन्हें रेलवे स्टेशनों पर सावधान रहने के लिए सूचित करें। लंदन में कोई लोगों को ट्रेन की पटरियों पर धक्का दे रहा है।" जबकि वीडियो असली है, अपराधी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है और इसी महीने की शुरुआत में लंदन कोर्ट ने उसे हत्या के प्रयास का दोषी करार किया है | दोनों घटनाएं 27 अप्रैल, 2018 की हैं।
एक पूर्व युरोटन्नल कार्यकारी, 91 वर्षीय सर रॉबर्ट मलपास, को इस वर्ष अप्रैल में मार्बल आर्क स्टेशन की रेलवे ट्रैक पर किसी ने धकेल दिया था। बीबीसी के रिपोर्ट के अनुसार धक्का देने वाले व्यक्ति का नाम पॉल क्रॉसले बताया गया है | (वीडियो सौजन्य: टेलीग्राफ) वीडियो में, जो की स्टेशनों पर लगे सीसीटीवी कैमरों का फुटेज है, ट्रेन के आने से ठीक पहले क्रॉस्ले को एक ओवरकोट पहने मलपास को ट्रैक पर धक्का देते देखा जा सकता है। इस घटना में मलपास का कूल्हा टूट गया और सिर पर भी चोट आई। मलपास को एक साथी यात्री रियाद एल हुसानी द्वारा बचाया गया था। हुसानी ने अपने जान पर खेलके मलपास को वहां से तब निकाला जब की अगली ट्रेन आने में सिर्फ एक मीनट शेष था। वीडियो के दूसरे भाग में 27 अप्रैल को क्रॉस्ले इसी तरह के हमले में टोटेनहम कोर्ट रोड स्टेशन पर एक और आदमी, टोबीस फ्रांसीसी, को धक्का देने की कोशिश करते देखा जा सकता है । हालाँकि फ्रांसीसी अपना संतुलन वापस पा कर खुद को केंद्रीय लाइन सेवा पर आने वाली ट्रेन के सामने गिरने से बचा ले जाता है। फिर वह स्टेशन पर साथी यात्रियों की मदद से अपने हमलावर को पकड़ने में सफल होता है, जैसा कि फुटेज में आगे देखा जा सकता है। पूर्व लंदन के लेटन हाई रोड निवासी ४६-वर्षीय पॉल क्रॉसले इस महीने की शुरुआत में लंदन में केंद्रीय आपराधिक न्यायालय में सुनवाई में हत्या-के-प्रयास के दो आरोपों में दोषी पाए गए थे। सत्रह साल की उम्र में क्रॉस्ली को स्किज़ोफ्रेनिया से ग्रसित पाया गया था | मनोवैज्ञानिक रिपोर्ट तैयार होने के बाद 9 नवंबर, 2018 को उन्हें सजा सुनाई जाएगी। (ब्रिटिश परिवहन पुलिस के बयान को देखने के लिए यहां
क्लिक
करें) घबड़ाहट को कम करने और यात्रियों का हौसला बढ़ाने के लिए ब्रिटिश ट्रांसपोर्ट पुलिस के डैरेन गफ ने बीबीसी को बताया कि ऐसी घटनाएं बहुत काम होती हैं | "मैं जनता को याद दिलाना चाहता हूं कि इस तरह की घटनाएं बहुत कम होती हैं और बिना किसी दुर्घटना के अंडरग्राउंड में लाखों यात्राएं की जाती हैं ।"
Show Full Article
Next Story