कुवैत में उच्च तापमान के कारण पिघल रही हैं कारें? फ़ैक्ट चेक

बूम ने पाया कि तस्वीरें पुरानी है और यह वस्तुएं कुवैत के मौसम के कारण नहीं पिघली थीं

पिघलते हुए कार बंपर और ट्रैफ़िक सिग्नल लाइट्स की असंबंधित तस्वीरें भ्रामक दावे के साथ शेयर की जा रहीं हैं । दावा किया जा रहा है कि यह तस्वीरें कुवैत से हैं जहां उच्च तापमान के कारण चीज़ें पिघल रही हैं ।
बूम ने पाया कि जबकि एक छवि एरिज़ोना (यु.एस) में एक निर्माण स्थल पर लगी आग से पिघलने वाली कारों की है और दूसरी कुवैत में एक ट्रैफ़िक सिग्नल की है जहां सड़क दुर्घटना के बाद आग लग गई थी ।

(व्हाट्सएप मैसेज)

तस्वीरों के साथ कैप्शन लिखा गया है, “कुवैत ने शनिवार को दुनिया में सबसे अधिक तापमान दर्ज किया; अल क़बास अखबार के अनुसार, तापमान 63 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है ।" हमने फ़ेसबुक पर कैप्शन की ख़ोज की और शेयर की गई समान तस्वीरें पाईं ।

(फ़ेसबुक पोस्ट)

पोस्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें और आर्काइव्ड वर्शन यहां देखें ।

फ़ैक्ट चेक

कैप्शन एक समाचार लेख से लिया गया है

कैप्शन के लिए गूगल ख़ोज से हम 12 जून, 2019 की गल्फ़ न्यूज़ के एक लेख तक पहुंचे, जिसमें लिखा गया था गर्म लहरों के कारण कुवैत और सऊदी अरब पृथ्वी पर उच्चतम तापमान रिकॉर्ड कर रहे हैं |

(गल्फ़ न्यूज़ लेख )
‘पिघली’ हुई कारों की तस्वीर
(तस्वीर एरिज़ोना, संयुक्त राज्य अमेरिका की है न कि कुवैत की)

बूम ने रूसी ख़ोज इंजन यैंडेक्स का उपयोग करके एक रिवर्स इमेज ख़ोज की और हम टस्कन न्यूज़ नाउ के एक समाचार रिपोर्ट तक पहुंचे । रिपोर्ट के अनुसार, 19 जून, 2018 को टक्सन, एरिज़ोना में एक निर्माण स्थल में आग लगने के बाद पास में खड़ी एक दर्जन से अधिक कारें क्षतिग्रस्त हो गईं थी ।
तस्वीरों में दिखाए गए कारों के बम्पर आग की वज़ह से पिघले और न कि अत्यधिक उच्च तापमान के कारण, जैसा वायरल पोस्ट में दावा किया गया है ।

ट्रैफ़िक सिग्नल छवि
(ट्रैफ़िक सिग्नल)

ट्रैफ़िक लाइट की तस्वीर वास्तव में कुवैत से है, लेकिन यह मौसम के कारण नहीं पिघली थी । फ़ैक्ट चेक करने वाली वेबसाइट स्नोप्स में अगस्त 2017 के एक लेख के अनुसार, घटना 2013 की है जब एक कार ने ट्रैफ़िक सिग्नल को टक्कर मार दी और ट्रैफ़िक सिग्नल में आग लग गई थी, जिसके बाद वह पिघल गया ।



Claim Review :  कुवैत में उच्च तापमान के कारण पिघल रही हैं कारें
Claimed By :  WhatsApp and Facebook pages
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story