कांग्रेस कार्यकर्ता का जनता को पैसे देते हुए पुराना वीडियो हुआ फिरसे वायरल

घुस देकर कार्यकर्ता द्वारा लोगो किया जा रहा है रैली में इकठ्ठा
दावा: काँग्रेस की रैली मे 500/- रू, प्रति आदमी को इकट्ठा होने के लिये दिया जा रहा है । अगर आपको विश्वास ना हो तो खुद देख लो ये है काँग्रेस की सच्चाई । 😚😚😚😚 रेटिंग : झूठ सच्चाई : इस वीडियो को वर्ष 2017 में इम्फाल, मणिपुर से यूट्यूब पर अपलोड  किया गया था । वीडियो के बैकग्राउंड में चल रही आवाज़ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी की जरूर है परन्तु गांधीनगर में हुई रैली की आवाज़ इस वीडियो के साथ मॉर्फ़ की गई है । मूल वीडियो में 'मीतेई' बोलने वाले लोगों का ऑडियो है, गुजराती नहीं । मूल क्लिप में राहुल गांधी का वीडियो भी नहीं है। फ़ेसबुक पर इस वीडियो को 
'रौशनी आर्य'
नामक अकाउंट से शेयर किया गया है जहाँ इसे 6 हज़ार से ज़्यादा व्यूज मिले है। इस वीडियो में कांग्रेस पार्टी के प्रतीक वाले झंडे फहराते दिखाई देते है और एक आदमी लोगों को नकद वितरित करता दिखाई पड़ता है। गुजरात में राहुल गांधी के वर्ष 2017 के भाषण की ऑडियो रिकॉर्डिंग को मॉर्फ़ कर वीडियो को गलत सन्दर्भ में संपादित किया गया है। मूल वीडियो वीडियो की शुरुआत में एक महिला को उसके हाथो में प्लेकार्ड धारण किये हुए देखा जा सकता है। जिस पर वार्ड नंबर 5 (केएमसी) लिखा दिखाई पड़ता है।
राहुल गाँधी के भाषण वाले मूल वीडियो को यहाँ देखा जा सकता है। बूम ने जांच में पाया की केएमसी थौबल , मणिपुर जिले के काकिंग नगर परिषद में स्थित है। बूम ने इस विषय के सन्दर्भ में वर्ष 2017 में एक रिपोर्ट की थी जिसे यहां पढ़ा जा सकता है।
Show Full Article
Next Story