पाकिस्तानी मामले का वीडियो भारत में हुए 'लव-जिहाद' के सन्दर्भ में वायरल

बूम ने पाया कि वीडियो कराची पाकिस्तान में शूट किया गया है एवं इसका भारत से कोई सम्बन्ध नहीं है
Love-Jihad-Fake-India

फ़ेसबुक एवं ट्विटर पर एक लड़की का वीडियो क्लिप वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया जा रहा है कि यह लड़की लव जिहाद के चक्कर में फस गयी जिसके बाद इसके साथ बहुत ग़लत हरकतें कि गयीं | आपको बता दें कि हालांकि घटना सही है परन्तु दावा झूठा है एवं भारत से नहीं है |

इस वीडियो क्लिप में आप एक महिला को देख सकते हैं | वह रोते हुए अपनी तकलीफ बता रही है एवं पीछे से एक शख़्स कि आवाज़ भी सुनी जा सकती है जिसमें वो घटना के बारे में बता रहा है | वीडियो के साथ एक कैप्शन भी शेयर किया गया है जिसमें लिखा है, "#बहुतबहुत_बधाई हो😡😡
एक और मोहतरमा लव जिहाद में गई। और इनको मारा पीटा गया पेसाब पिलाई गई। ये सेक्युलर थी और बोलती थी ये बहुत अछे होते है tik tok पर सभी मुस्लिमों को करती थी fallow वही से इन्हें फँसाया गया। 7 लड़कों ने. @imhindu1999 @Dikshapandey22 @godfather_321 @anjanaomkashyap"|

दावे में इस बात को भी रखा गया है कि यह महिला टिक टॉक पर लव जिहाद का शिकार हुई थी | यह झूठ है जिसे कई बार शेयर किया गया है | हालांकि कैप्शन में किसी जगह का विवरण नहीं है परन्तु भारतीय सोशल नेटवर्क सर्कल में यह वीडियो जोर शोर से शेयर हो रहा है |

आप ट्विटर और फ़ेसबुक कि पोस्ट्स नीचे देख सकते हैं एवं इनके आर्काइव्ड वर्शन यहाँ और यहाँ देखें |



Viral on FB
फ़ेसबुक पर वायरल

फ़ैक्ट चेक

बूम को खोज के दौरान मिला कि यह वीडियो ट्विटर पर सबसे पहले एक पाकिस्तानी पत्रकार इक़रार उल हसन सईद द्वारा पोस्ट किया गया था | वीडियो के वास्तविक कैप्शन को उर्दू में लिखा गया है जिसका हिंदी अनुवाद है कि, "यह वीडियो काफी दर्दनाक है और लड़की ने अपने प्रभावशाली पति का नाम अली जबेर मोती बताया है | माफ़ कीजिएगा कि वीडियो पोस्ट होने से रुक नहीं सका | मैं लड़की कि पहचान नहीं बता सकता |"

इस ट्वीट से यह भी मालुम होता है कि लड़की वास्तव में इटली कि रहने वाली है |



इस ट्वीट के बाद हसन ने एक ट्वीट और किया जिसमें उन्होंने इस घटना के बाद लड़की के पति अली जबेर मोती के ख़िलाफ दर्ज़ एफ.आई.आर कि तस्वीरें साझा कि हैं | इन तस्वीरों के साथ उन्होंने कैप्शन में पुलिस थाने का नाम दरखशान कराची बताया है |



इन ट्वीट्स के अलावा बूम को इरुम अज़ीम फ़ारूक़ी, जो एक पाकिस्तानी राजनीतिज्ञ है, का ट्वीट मिला | उन्होंने कैप्शन में लिखा है कि अली जबेर, जबेर मोती नामक शख़्स का बेटा है | जबेर मोती पहले से ही यु.के कि जेल में ड्रग स्मगलिंग के लिए बंद है और एफ.बी.आई कि वांटेड लिस्ट में है |



हमें इस्लामाबाद में पदस्थ इटली के राजदूत का इसी विषय पर ट्वीट मिला जिसे आप नीचे देख सकते हैं | ट्वीट में राजदूत स्टेफनो पोंटेकारवो ने लिखा कि @इटलीइनकराची से ख़बर | एफ.आई.आर दर्ज़ होगयी है परन्तु पति अभी भी फरार है जो जल्दी गिरफ़्तार हो जाएगा | लड़के कि माँ गिरफ़्तार कर ली गयी है | पीड़ित अपनी माँ के पास पहुंच गयी है एवं सुरक्षित है | @इटलीइनकराची पीड़ित से संपर्क में है | @एसपीसुहाई केस पर है | कराची पुलिस का धन्यवाद |



Claim Review :  एक और महिला हुई लव जिहाद का शिकार | टिक टॉक पर हुआ था प्यार
Claimed By :  Facebook pages and Twitter handles
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story