कांग्रेस के किसानों की कर्ज़ा-माफ़ी के वायदे पर प्रश्न उठा रहा है ये वायरल वीडियो

राहुल गाँधी के मीडिया ब्रीफिंग के वीडियो को क्लिप करके किये गया वायरल, कहा कांग्रेस कर्ज़ा-माफ़ी के वादे से पलट गई
चुनावों के परिणाम आने के साथ साथ फ़ेक और भ्रामक न्यूज़ का बाजार एक बार फिर गर्म हो चूका है | इसी सिलसिले में सोशल मीडिया पर एक वीडियो ज़ोर शोर से वायरल हो रहा है | ये वीडियो दावा करता है: लो करवा लो क़र्ज़ माफ, एक ही दिन में पलट गया पप्पू | ये पोस्ट दरअसल दो अलग अलग वीडियो को साथ ला कर बनाया गया | पहला क्लिप राहुल गाँधी द्वारा मध्य प्रदेश में सम्बोद्धित एक रैली से है | इसमें आप राहुल को ये बोलते सुन सकते हैं: "मैं आश्वासन देना चाहता हूँ इस स्टेज से जिस दिन मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आएगी, उसके बाद आप दस दिन गिनना और दस दिन के अंदर, गारंटी कर के कह रहा हूँ, यहां पे आपका कर्ज़ा माफ हो जाएगा
| पोस्ट का आर्काइव्ड संस्करण यहां देखें | इसके तुरंत बाद एक दूसरा वीडियो शुरू होता है | कांग्रेस अध्यक्ष को न्यूज़ चैनल्स को चुनाव जीतने के बाद मीडिया ब्रीफिंग देते इस वीडियो में आप ये बोलते सुन सकते हैं: "मैंने अपने भाषणों में बोला की क़र्ज़ माफ़ी एक सपोर्टिंग स्टेप है | क़र्ज़ माफ़ी सोल्युशन नहीं है | सोल्युशन ज़्यादा काम्प्लेक्स होगा | सोल्युशन किसानों को सपोर्ट करने का होगा, इंफ़्रा स्ट्रक्चर बनाने का..." | यहां पर ये वीडियो ख़त्म हो जाता है |

प्रेस ब्रीफिंग की सच्चाई

यह दूसरा क्लिप जहाँ आप राहुल गाँधी को कर्ज़ा-माफ़ी को एक सपोर्टिंग स्टेप बताते हुए देख रहें है, दरअसल उनके द्वारा ग्यारह (11) दिसंबर को कांग्रेस हेडक्वार्टर्स में दिए गए मीडिया ब्रीफिंग की है | तीन राज्यों में चुनाव जीतने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष्ग यहां मीडिया को सम्बोद्धित करते नज़र आ रहे हैं | इस प्रेस ब्रीफिंग में पत्रकारों ने राहुल से काफी प्रश्न पूछे थे और ये क्लिप यही में से एक का उत्तर है | नीचे देखें वीडियो का वो हिस्सा | राहुल से ये प्रश्न पूछा गया था: राहुल जी आप लोग बार बार कहते हैं की 2009 में यु.पि.ऐ. सरकार की वापसी में ऋण माफ़ी का महत्वपूर्ण योगदान है | 2019 में भी आप किसानो की क़र्ज़ माफ़ी का वादा करके आप लोग जाएंगे क्यूंकि अब चुनाव दूर नहीं ? कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने जवाब में कहा: मैंने अपने भाषणों में बोला की क़र्ज़ माफ़ी एक सपोर्टिंग स्टेप है | क़र्ज़ माफ़ी सोल्युशन नहीं है | सोल्युशन ज़्यादा काम्प्लेक्स होगा | सोल्युशन किसानों को सपोर्ट करने का होगा, इंफ़्रास्ट्रक्चर बनाने का होगा, टेक्नोलॉजी देने का होगा और सोल्युशन, फ्रैंकली मैं बोलूं, सोल्युशन आसान नहीं है, सोल्युशन चल्लेंजिंग चीज़ है और हम उसको करके दिखाएंगे | बट वो, उसमे, किसानों के साथ हमें काम करना पड़ेगा, देश की जनता के साथ काम करना पड़ेगा, और वो हम करेंगे
| यहां आप देख सकते हैं की पोस्ट में इसी वीडियो को थोड़ा पहले क्लिप करके एक भ्रामक सन्देश फ़ैलाने की कोशिश की गयी है | वीडियो में कहीं भी राहुल गाँधी को इस बात से इंकार करते नहीं सुना जा सकता है की किसानो का कर्ज़ा माफ नहीं होगा | फ़ेसबुक पर इस पोस्ट को अलग-अलग पेजों से धड़ल्ले से वायरल किया जा रहा है | जय पूर्वांचल नामक फ़ेसबुक पेज पर इस वीडियो को तीन घंटे में 51,000 से ज़्यादा शेयर्स मिल चुके हैं | 100 करोड़ राष्ट्रवादी हिन्दुओं का ग्रुप (ऐड होते ही 150 हिन्दुओं को ऐड करें) और योगी आदित्यनाथ की सेना जैसे पेजों से भी इसे प्रमुखता से शेयर किया जा रहा है

प्रमुख मुद्दा

आपको बात दें की कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव किसानों की क़र्ज़ माफ़ी को एक प्रमुख मुद्दा बना के लड़ा है | करीब करीब अपनी सभी भाषणों में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने ये दावा किया था की उनकी सरकार आते ही दस दिन के अंदर किसानो के सारे क़र्ज़ माफ़ कर दिए जाएंगे | हालांकि पोस्ट में शेयर किया गया पहला क्लिप बिलकुल विश्वसनीय है | परन्तु दूसरे क्लिप को पूर्ण रूप से नहीं दिखाया गया है |
Next Story