देवी काली की मूर्तियों को खंडित करने का पुराना वीडियो हाल की घटना के रूप में वायरल

बूम ने पाया की यह वीडियो 2015 से फ़ेसबुक पर मौजूद है | कई दावों में इसे कश्मीर मुद्दे से जोड़कर सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की जा रही है
Broken Idols in West Bengal

नवरात्री शुरु होने में मुश्किल से एक महीना बचा है। ऐसे समय में चार साल पुराना एक वीडियो भ्रामक कैप्शन के साथ फिर से वायरल हो रहा है जिसमें देवी काली की खंडित मूर्तियों को दिखाया गया है।

वायरल किए जा रहे वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा है,”पश्चिम बंगाल में नवरात्रि के लिए बनाई जा रही माता की मूर्तियों को खंडित किया गया।”

आप वीडियो नीचे देख सकते हैं और यहां इसके अर्काइव वर्शन तक पहुंच सकते हैं।

[embed]https://www.facebook.com/VishalMalviya23031994/videos/667056937139641/[/embed]

वीडियो में देवी काली की कई टूटी हुई मूर्तियों को दिखाया गया है और पीछे से एक व्यक्ति को यह कहते हुए सुना जा सकता है, "उन्होंने हमारी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाया है।"

वीडियो विभिन्न कैप्शन के साथ कई फ़ेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल में वायरल हुआ है। कुछ कैप्शन में तो यह भी कहा गया है कि 'कश्मीर के बाद, अब पश्चिम बंगाल की बारी है'।

[embed]https://twitter.com/hema4pk/status/1163985164059455489?ref_src=twsrc^tfw|twcamp^tweetembed|twterm^1163985164059455489&ref_url=https://www.boomlive.in/2015-video-of-desecrated-idols-of-goddess-kaali-passed-off-as-recent/[/embed] [embed]https://twitter.com/cYc94igIDSjRUqT/status/1163780385978736646?ref_src=twsrc^tfw|twcamp^tweetembed|twterm^1163780385978736646&ref_url=https://www.boomlive.in/2015-video-of-desecrated-idols-of-goddess-kaali-passed-off-as-recent/[/embed]
Broken Idols in West Bengal
Broken Idols in West Bengal
Broken Idols in West Bengal

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वीडियो में से एक फ्रेम पर रिवर्स इमेज सर्च किया और पाया कि यह 2015 से मौजूद है। इसी वीडियो को 10 नवंबर, 2015 को यूट्यूब पर अपलोड किया गया था, जिसमें कैप्शन के साथ यह लिखा गया था कि, 'पश्चिम बंगाल के हुगली में, मां काली की 25 मूर्तियां खंडित।'

[embed]https://youtu.be/oPStahv0_5M[/embed]

बूम ने यही वीडियो, एक राइट विंग पेज वेलकम टू हिंदूइज्म पर भी पाया जिसे 2015 में अपलोड किया गया था। यहां पर मूर्तियों को खंडित करने का आरोप मुस्लिम समुदाय के लोगों पर लगाया गया था।

[embed]https://www.facebook.com/watch/?v=442947315896704[/embed]

हमने घटना पर समाचार रिपोर्टों की तलाश की लेकिन कोई रिपोर्ट नहीं मिली। बूम ने अधिक जानकारी के लिए हुगली पुलिस से भी संपर्क करने की कोशिश की है। उनसे प्रतिक्रिया मिलते ही इस लेख को अपडेट किया जाएगा।

बूम स्वतंत्र रूप से यह स्थापित नहीं कर सका कि पश्चिम बंगाल में वीडियो कहां से था परन्तु हम यह पता लगाने में सक्षम रहे कि वीडियो 2015 से ही मौजूद है।

Claim Review :  पश्चिम बंगाल में नवरात्रि के लिए बनाई जा रही माता की मूर्तियों को खंडित किया गया।
Claimed By :  Facebook pages and Twitter handles
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story